एमपीएसडी विवाद: 45 मिनट चला ड्रामा नहीं पहुंची डायरेक्टर तक मांगों की सूची

एमपीएसडी विवाद: 45 मिनट चला ड्रामा नहीं पहुंची डायरेक्टर तक मांगों की सूची

भोपाल  एमपीएसडी का ड्रामा तीसरे दिन भी जारी रहा, स्टूडेंट्स जहां सुबह 7 बजे क्लास जाने के बजाए परिसर के बाहर सड़क पर बैठे रहे। जिसके चलते दोपहर 1 बजे स्टूडेंट्स और एमपीएसडी के डायरेक्टर आलोक चटर्जी के साथ आपने सामने बैठकर स्टूडेंट्स ने अपनी बात रखी। स्टूडेंट्स का कहना है जब तक हमें लिखित रूप से जवाब नहीं मिलेगा तब तक हम क्लास अटैंड नहीं करेंगे। एमपीएसडी में अव्यवस्था को लेकर सत्र 2018-19 सभी स्टूडेंट्स गुरुवार से क्लासेस अटैंड नहीं कर रहे हैं और अव्यवस्थाओं के लेकर स्टूडेंट्स ने संस्कृति सचिव और सीएम हाउस में शिकायत भी की थी।

देर शाम तक नहीं निकला कोई भी निष्कर्ष

नाट्य विद्यालय स्टूडेंट्स ने निदेशक आलोक चटर्जी के साथ स्टूडेंट्स आमने सामने हुए। इस दौरान स्टूडेंट्स ने अपनी मांगों को उनके सामने रखा इस दौरान पहली मांग यह थी की पीने के पानी की व्यवस्था को लेकर उन्होंने अपनी शिकायत की थी। एमपीएसडी निदेशक आलोक चटर्जी ने बताया कि क्लास के सीआर अक्षय ठाकुर के साथ 3 स्टूडेंट्स को बुलाकर उनसे रिक्वेस्ट करते हुए कहा है कि कल से क्लास अटैंड करने आए। साथ ही उन्होंने स्टूडेंट्स से बात कर एक लखनऊ और बनारस का टूर पर ले चलने की बात की है।