धाकड़ पर बरसे देवता

धाकड़ पर बरसे देवता

इंदौर ।   देवी अहिल्या विश्वविद्यालय के कुलपति नरेंद्र धाकड़ के खिलाफ देवी अहिल्या विश्वविद्यालय शिक्षक संघ (देवता) के सदस्य एकजुट हो गए हैं। शनिवार को संघ ने सातवें वेतनमान को लागू करने के लिए एक बैठक की। इस बैठक में कुलपति नरेंद्र धाकड़ द्वारा पिछले दिनों देवता के सदस्यों को दो घंटे इंतजार कराने के बाद भी न मिलने को लेकर रोष व्यक्त किया गया। मीटिंग के दौरान सभी सदस्यों ने तय किया कि आगे से अगर कुलपति इस तरह का व्यवहार करते हैं, तो उनके खिलाफ कदम उठाया जाएगा। इसके तहत उन्हें हटाने के लिए मुहिम भी छेड़ी जा सकती है। देवता के सचिव डॉ. लक्ष्मण शिंदे का कहना है कि अब हम चुप नहीं बैठेंगे। इनकी कार्यशैली के खिलाफ आवाज उठाएंगे।

कार्यपरिषद से मिलेगा प्रतिनिधिमंडल

बैठक के दौरान निर्णय लिया गया कि देवता का एक प्रतिनिधिमंडल 18 फरवरी को कार्यपरिषद के सदस्यों से मिलेगा और उन्हें सातवां वेतनमान लागू करने की अपनी मांग सौंपेगा। जानकारी के अनुसार, कार्यपरिषद के सदस्यों को प्रतिनिधिमंडल कुलपति द्वारा उनके साथ की गई बदसलूकी की जानकारी भी देगा और बताएगा कि किस तरह विवि के शिक्षकों के साथ कुलपति का दुर्व्यवहार है। बता दें कि 18 फरवरी को विवि कार्यपरिषद की बैठक भी होगी।

वेतनमान के लिए चलाएंगे हस्ताक्षर अभियान

बैठक में विवि के शिक्षकों के लिए सातवां वेतनमान लागू करने को लेकर एक हस्ताक्षर अभियान भी चलाया जाएगा। देवता के एक पदाधिकारी ने बताया कि विवि ने गैर शिक्षक कर्मचारियों को सातवें वेतनमान का लाभ दे दिया है, लेकिन शिक्षकों को इसका लाभ देने से कुलपति कतरा रहे हैं, इसलिए वेतनमान लागू करने के लिए हस्ताक्षर अभियान चलाया जाएगा और उसे लागू करने के लिए दवाब बनाया जाएगा।