पुलिस कर रही खटुआ के परिवार का इंतजार, की जाएगी पूछताछ

पुलिस कर रही खटुआ के परिवार का इंतजार, की जाएगी पूछताछ

जबलपुर। धनुष तोप में चायनीज बेयरिंग मामले के संदेही जीसीएफ के जे डब्ल्यूएम सीएस खटुआ की हत्या के प्रकरण में पुलिस को अब तक कोई ठोस सुराग हाथ नहीं आए है। पुलिस इस मामले में लगातार पूछताछ के रास्ते से ही सुराग निकालने कवायद कर रही है। मृतक की पत्नी मौसमी एवं मृतक के भाई से फिर नए सिरे से पूछताछ की तैयार कर रही है। पुलिस सूत्रों के अनुसार फिलहाल मृतक खटुआ की पत्नी एवं उसके परिवार अंतिम संस्कार के सिलसिले में उड़ीसा गृह ग्राम चले गए है। वहां से फिलहाल वे लौट कर नहीं आए है। पुलिस उनके लौटने की सरगर्मी से तलाश कर रही है। महिला की बात गलत निकली पुलिस को जानकारी मिली थी कि घटना के दिन मृतक के साथ एक महिला मौजूद थी लेकिन जब पुलिस ने सघन पतासाजी की तो ऐसी कोई भी महिला मृतक के साथ नहीं थी। किसी ने पुलिस को भ्रामक जानकारी दी लेकिन इस भ्रामक जानकारी देने ने आपसी रंजिश के चलते एक महिला को फंसाने के लिए कोशिश की थी।

घटना स्थल के पास कोई कैमरे नहीं

पुलिस सूत्रों का कहना है कि केन्द्रीय विद्यायल वन के बाद से घटना स्थल तक कोई कैमरा नहीं है। इससे यह पता लगाना कठिन है कि मृतक अपने घर न पहुंच कर घटना स्थल पर कैसे पहुंच गया था।

घर के पीछे से जाती है सड़क

घटना स्थल को मृतक के घर के पीछे से सड़क जाती है। पुलिस ने घटना दिन मृतक के वकील के घर जाने की पतासाजी करने शहर में लगे टीवी कैमरे के फुटेज चैक किया गए। इसके तहत घर से जब वह केन्द्रीय विद्यालय पहुंचा तो उसकी तस्वीर थी। इसके साथ ही नौदराब्रिज, ब्लूम चौक, छोटी लाइन फाटक तथा दशमेर द्वार तथा फिर कृपाल चौक तक उसकी तस्वीर दिखाई थी। कृपाल चौक के समीप वकील के घर गया वहां से मृतक उसी रास्ते लौटा था, किन्तु केन्द्रीय विद्यालय के समीप कैमरे में आखरी बार देखा गया।

सीबीआई के कब्जे में हार्डडिस्क

मृतक के कम्प्यूटर की हार्ड डिस्क सीबीआई की टीम ले जा चुकी है अत: पुलिस मृतक द्वारा अथवा अन्य किसी के द्वारा मिटा दिए गए डॉटा भी रिकवर नहीं कर पा रही है।