महिला खिलाड़ियों को पुरुषों के समान मिलना चाहिए पुरस्कार राशि: सानिया

महिला खिलाड़ियों को पुरुषों के समान मिलना चाहिए पुरस्कार राशि: सानिया

नई दिल्ली। देश की शीर्ष टेनिस खिलाड़ी सानिया मिर्जा ने जोर देकर कहा है कि महिला खिलाड़ियों को पुरुषों के बराबर समान पुरस्कार राशि मिलनी चाहिए। सानिया ने शनिवार को यहां फिक्की महिला संगठन (एफएलओ) के 35वें वार्षिक सत्र में मशहूर बॉलीवुड अभिनेत्री सोनम कपूर के साथ एक पैनल चर्चा के दौरान यह बात कही। सानिया ने कहा कि भारत में महिला सशक्तिकरण की दिशा में हमने एक लंबा सफर तय किया है, लेकिन अभी भी काफी कुछ किया जाना बाकी है खासतौर पर खेलों के क्षेत्र में। सानिया ने सायना नेहवाल, पीवी सिंधू , साक्षी मालिक, एमसी मैरीकॉम जैसी दिग्गज खिलाड़ियों का उल्लेख करते हुए कहा कि देश में महिला खिलाड़ियों ने बैडमिंटन और कुश्ती जैसे खेलों में काफी अच्छा प्रदर्शन किया, लेकिन महिलाओं के लिए काफी कुछ किया जाना बाकी है। महिला खिलाड़ियों को पुरुष खिलाड़ियों के बराबर पुरस्कार राशि दी जानी चाहिए। वैसे इस तरह का भेदभाव पूरी दुनिया में खेलों के अंदर है। सानिया और सोनम ने एक स्वर में कहा कि किसी भी महिला के विकास में उसके परिवार और खासकर माता पिता का सबसे बड़ा योगदान होता है। चर्चा में दोनों महिलाओं ने अपनी कामयाबी में अपनी पारिवारिक पृष्ठभूमि को अपनी सफलता का कारण बताया।

देखा जाता है दूसरी नजÞरों से

सानिया का मानना है कि आज भी देश में महिला खिलाड़ियों को दूसरी नज़रों से देखा जाता है। भले ही कुछ लडकियां ओलंपिक और विश्व स्तर पर पहचान बना रही हैं लेकिन जब कोई लड़की क्रिकेट और फुटबॉल जैसे खेलों मे भाग लेती है तो उसे लड़कों से कमतर आंका जाता है और कई बार अपनो से न भी सुननी पड़ जाती है।