रामपुर भतौड़ी से एक करोड़ की सागौन की लकड़ी गायब

रामपुर भतौड़ी से एक करोड़ की सागौन की लकड़ी गायब

भोपाल ।   बैतूल में वन विभाग से जुड़े रामपुर भतौड़ी प्रोजेक्ट में अनियमितता और गड़बड़ी का बड़ा मामला सामने आया है। इसमें 9 नंबर बीट की जगह 10 नंबर बीट में सागौन के पेड़ काट दिए गए हैं। इस पूरे मामले में करीब एक करोड़ की सागौन की लकड़ी गायब हो गई है। मामले का खुलासा होने पर मुख्यालय ने स्थानीय स्तर से जांच प्रतिवेदन मांगा है, लेकिन अभी तक इसे उपलब्ध नहीं कराया गया है। साथ ही इस मामले को अब दबाने के प्रयास किए जा रहे हैं। राज्य शासन ने बैतूल के रामपुर भतौड़ी प्रोजेक्ट की जिम्मेदारी मप्र राज्य वन विकास निगम को दी है। निगम वहां पेड़ लगाने और उसे काटने की काम कर रहा है। सूत्रों के मुताबिक, इस प्रोजेक्ट के तहत आने वाले कक्ष क्रमांक 219 के बीट नंबर 9 में कटाई करना था पर यह कटाई बीट नंबर 10 में कर दी गई। यह मामला अवैध कटाई में आता है। सूत्रों का कहना है कि बिना अनुमति के कक्ष क्रमांक 219 के कूप 10 में कटाई कराने के अलावा कूप 9 में भी पेड़ों की कटाई की गई। वहां करीब 20 फीसदी हिस्से में पेड़ काट दिए गए थे। जब यह मामले की शिकायत हुई तो नौ नंबर की कटाई रोक दी गई । तब तक इस कूप 9 से भी करीब 132 घन मीटर सागौन लकड़ी काटी जा चुकी थी। जब यह मामला उठा तो इसमें से 82 घन मीटर लकड़ी भौरा डिपो में जमा करा दी गई। बाकी की लकड़ी गायब बताई जा रही है, जिसका बाजार मूल्य करीब एक करोड़ रुपए बताया जा रहा है। निगम ने इस मामले में दो कर्मचारियों को निलंबित कर दिया है।