सावधान!ट्रेफिक पुलिस से पंगा मत लेना, हर हरकत होगी कैद

सावधान!ट्रेफिक पुलिस से पंगा मत लेना, हर हरकत होगी कैद

जबलपुर ।  यातायात पुलिस हाईटैक होने की दिशा में एक कदम और बढ़ गई है। यातायात चालान के दौरान पुलिस कर्मी पर अवैध वसूली का आरोप लगाने वाले तथा पुलिस से हुज्जत करने वालों को सावधान हो जाना चाहिए। उनकी एक-एक गतिविधि पुलिस की वर्दी पर लगे बॉडी वॉर्न कैमरे में रिकार्ड होगी। यातयात व्यवस्था एवं भीड़ पर नियंत्रण के लिए पुलिस द्वारा बॉडी वॉर्न कैमरों का पहली बार उज्जैन में सिंहस्थ मेले के दौरान उपयोग किया गया था। इसके फायदे और खूबी को देखते हुए इसका उपयोग अब यातायात व्यवस्था में करने का निर्णय लिया गया है।

सभी जिलों में खरीदी

हाल ही में जबलपुर सहित प्रदेश के सभी जिलों में 30-30 बॉडी वॉर्न कैमरों की खरीदी की गई है। जबलपुर पुलिस ने अपने सब इंस्पेक्टरों एवं इंस्पेक्टरों को बॉडी वॉर्न कैमरे प्रदान कर उन्हें हिदायत दी है कि जब तक सड़क पर वे ड्यूटी करते हैं, उसको लगाए रखना जरूरी है।

नहीं कर सकेंगे गड़बड़ी

बॉडी वॉर्न कैमरों को लेकर उच्च अधिकारियों का मानना है कि इस कैमरे से राजस्व में बढ़ोत्तरी होगी। दरअसल चालान काटने वाले अधिकारियों के लिए ये कैमरे आवश्यक हो गए हैं। अब चालान न काटकर उनसे रिश्वत लेने की संभावना खत्म हो जाएगी। वहीं पुलिस पर कोई व्यक्ति अभद्रता और अवैध वसूली की शिकायत भी नहीं कर सकेगा क्योंकि पुलिस के संपर्क में आने के बाद वह कैमरे की निगरानी में होगा।

फिलहाल 30 आए

फिलहाल यातायात पुलिस ने 30 कैमरे ही खरीदे हैं लेकिन पुलिस की भविष्य की योजना है कि शहर के प्रमुख चौराहों, जहां यातायात पुलिस का प्वाइंट रहता है, वहां पर हर पुलिस कर्मी को कैमरे से लैस किया जाएगा।

आॅन लाइन होगा कैमरा

इन कैमरों से अभी तो सिर्फ रिकॉर्डिंग हो रही है लेकिन आने वाले समय में पुलिस कर्मी इन कैमरों को अपने मोबाइल से अटैच करेंगे, जिससे पुलिस अधिकारी कंट्रोल रूम से इनकी लाइव गतिविधियां देख सकेंगे।