सीतलामाता बाजार में कार्रवाई टली अनंत चतुर्दशी तक की मिली मोहलत

सीतलामाता बाजार में कार्रवाई टली अनंत चतुर्दशी तक की मिली मोहलत

इंदौर। सीतलामाता बाजार में शनिवार से शुरू होने वाली तोड़फोड़ अब अनंत चतुर्दशी के बाद होगी। निगम की कार्रवाई होने वाली थी, लेकिन इससे पहले ही बाजार के सभी व्यापारी महापौर से मिलने पहुंचे और अनंत चतुर्दशी तक की मोहलत मांगी। इस पर महापौर ने तत्काल कमिश्नर आशीष सिंह से चर्चा की। महापौर और कमिश्नर की आपसी सहमति के बाद व्यापारियों के पक्ष में निर्णय लिया। जयरामपुर कॉलोनी से गोराकुंड तक बनने वाली 60 फीट चौड़ी सड़क निर्माण में बाधक जयरामपुर कॉलोनी, छत्रीबाग, नृसिंह बाजार तक हट चुके हैं, लेकिन सीतलामाता बाजार से कुछ बाधक निर्माण हटाए जाने शेष हैं। निगम ने शनिवार से कार्रवाई करने का ऐलान किया था, लेकिन इससे पहले सीतलामाता बाजार के व्यापारी अध्यक्ष रमेश त्रिवेदी व अनिल शर्मा (बबलू) के नेतृत्व में अनेक व्यापारी महापौर मालिनी लक्ष्मणसिंह गौड़ के निवास पर मिलने पहुंचे। व्यापारियों ने महापौर से आग्रह किया कि वे कार्रवाई के लिए तैयार हैं, लेकिन हमें अनंत चतुर्दशी तक मोहलत दी जाए, जिस पर महापौर ने कमिश्नर आशीष सिंह से चर्चा की व अनंत चतुर्दशी के बाद कार्रवाई करने को कहा। महापौर के कहने पर कमिश्नर ने सहमति देते हुए चतुर्दशी के बाद कार्रवाई करने के निर्देश संबंधित अधिकारियों को दिए। महापौर से मिलने पूर्व पार्षद सोनू राठौर, व्यापारी रामस्वरूप पोरवाल, अतुल नीमा, प्रकाश भाटिया, हेमा पंजवानी, राधेकिशन अस्पालिया, दीपक ( काशीदीप) सहित बड़ी संख्या में व्यापारी मौजूद थे।

100 दिन में 1200 मीटर सड़क बनाने का निगम ने किया दावा

निगम द्वारा जयरामपुर कॉलोनी से लेकर गोराकुंड चौराहा तक 1200 मीटर लंबी 60 फीट चौड़ी सड़क के निर्माण के लिए योजना बनाने का काम शुरू कर दिया है। निगम ने इस सड़क का पूरा निर्माण 100 दिन के रिकॉर्ड समय में करने का दावा किया है। निगम निर्माण कार्य चतुर्दशी के तत्काल बाद शुरू कर देगा। निगम की ओर से पूर्व में स्मार्ट सिटी प्रोजेक्ट में जो सड़कों के निर्माण का टेंडर मंजूर किया गया था उसी टेंडर में इस सड़क को भी शामिल किया गया है।

तीन स्थानों पर एक साथ शुरू करेंगे निर्माण कार्य

निगम द्वारा इस सड़क का निर्माण एक साथ तीन स्थानों पर शुरू किया जाएगा। सबसे पहले कलेक्टोरेट के जयरामपुर कॉलोनी की तरफ वाले तिराहे से सड़क का निर्माण शुरू होगा। दूसरा छोर जयरामपुर कॉलोनी से और तीसरे छोर पर दरगाह चौराहे से शुरू होगा।

पुल जैसा ही करेंगे काम

निगम ने तय किया है कि जिस तरह से जवाहर मार्ग पर पुल को समय सीमा से पहले तैयार कर दिया था, उसी प्रकार यह सड़क भी 100 दिन के भीतर तैयार कर दी जाएगी।