मोदी सरकार 2.0 में अमित शाह को मिला गृह मंत्रालय, राजनाथ होंगे नए रक्षा मंत्री

मोदी सरकार 2.0 में अमित शाह को मिला गृह मंत्रालय, राजनाथ होंगे नए रक्षा मंत्री

नई दिल्ली। जैसी कि संभावना थी कि मोदी सरकार 2.0 में शामिल अमित शाह को देश का नया गृह मंत्री बनाया गया है। वहीं, मोदी सरकार-1 में गृह मंत्री की भूमिका में रहे राजनाथ सिंह को रक्षा मंत्री के तौर पर नई जिम्मेदारी सौंपी गई है। नितिन गडकरी को पहले की तरह ही सड़क परिवहन, जबकि अरुण जेटली के सरकार में शामिल न होने की स्थिति में रक्षा मंत्री रहीं निर्मला सीतारमण को इस बार वित्त मंत्री बनाया गया है। मध्यप्रदेश से केंद्रीय मंत्रिमंडल में शामिल नरेंद्र सिंह तोमर को कृषि एवं ग्रामीण विकास, थावरचंद गहलोत को सामाजिक न्याय एवं अधिकारिता तथा धर्मेंद्र प्रधान को पेट्रोलियम, स्टील, नैचरल गैस मंक्षालय की जिम्मेदारी सौंपी गई है। वहीं राज्यमंत्री स्वतंत्र प्रभार प्रहलाद सिंह पटेल को संस्कृति और पर्यटन के अलावा राज्यमंत्री फग्गन सिंह कुलस्ते को स्टील मंत्रालय दिया गया है। मोदी के सरप्राइज मंत्री पूर्व विदेश सचिव एस. जयशंकर को विदेश मंत्री बनाया गया है। उन्हें अमेरिका, चीन और रूस तीनों महत्वपूर्ण देशों में काम करने का लंबा अनुभव है। उनके शपथ के साथ ही तय माना जा रहा था कि उन्हें विदेश मंत्रालय दिया जा सकता है। 

शहीदों के बच्चों की स्कॉलरशिप बढ़ी

प्रधानमंत्री बने नरेंद्र मोदी ने अपने दूसरे कार्यकाल में सबसे पहला फैसला शहीदों के बच्चों को दिए जाने वाली स्कॉलरशिप को बढ़ाने के तौर पर किया। शुक्रवार को मोदी 2.0 की पहली कैबिनेट बैठक में नैशनल डिफेंस फंड के तहत प्राइम मिनिस्टर्स स्कॉलरशिप स्कीम में बड़े बदलाव को मंजूरी दी। अब शहीदों के लड़कों को हर महीने 2000 की जगह 2500 रुपए की स्कॉलरशिप मिलेगी। इसी तरह लड़कियों को अब 2250 की जगह प्रति महीने 3000 रु. स्कॉलरशिप मिलेगी। स्कॉलरशिप स्कीम के दायरे को बढ़ाते हुए अब इसमें राज्य पुलिस को भी शामिल किया गया है। आतंकी या नक्सली हमले में शहीद हुए राज्य पुलिस के वानों/अफसरों के बच्चों को भी अब 500 रुपये सालाना स्कॉलरशिप मिलेगी। 

पहली पूर्णकालिक महिला वित्त मंत्री बनीं सीतारमण

मोदी सरकार के पहले कार्यकाल में पहले वाणिज्य एवं उद्योग मंत्री और फिर रक्षा मंत्रालय संभालने वालीं निर्मला सीतारमण को अब वित्त मंत्रालय की जिम्मेदारी दी गई है। वह देश की पहली पूर्णकालिक महिला वित्त मंत्री बन गई हैं। प्रधानमंत्री रहते हुए इंदिरा गांधी ने 1970-71 के बीच वित्त मंत्रालय अपने पास रखा था। 

जयशंकर पहले विदेश मंत्री, जो विदेश सचिव रहे

एस जयशंकर पहले विदेश मंत्री हैं, जो विदेश सचिव रह चुके हैं। जनवरी 2015 से जनवरी 2018 तक वे इस पद पर थे। 16 महीने पहले वे रिटायर हुए। उनसे पहले एमसी चागला और नटवर सिंह ऐसे विदेश मंत्री थे, जो विदेश सेवा में रह चुके थे। एमसी चागला 1966-67 के बीच विदेश मंत्री थे।