जम्मू कश्मीर के मुस्लिम बहुल होने के कारण अनुच्छेद 370 हटाया गया: चिदम्बरम

जम्मू कश्मीर के मुस्लिम बहुल होने के कारण अनुच्छेद 370 हटाया गया: चिदम्बरम

चेन्नई कांग्रेस के वरिष्ठ नेता एवं पूर्व केंद्रीय मंत्री चिदम्बरम ने कहा कि जम्मू कश्मीर के मुस्लिम बहुल प्रदेश होने के कारण ही संविधान के अनुच्छेद 370 को हटाया गया है। श्री चिदम्बरम ने रविवार को यहां कहा कि अगर जम्मू कश्मीर में हिन्दुओं की संख्या अधिक होती तो भारतीय जनता पार्टी यह कदम नहीं कभी नहीं उठाती। उन्होंने केंद्र की भाजपा नीत सरकार पर सत्ता के बल का उपयोग करते हुए जम्मू कश्मीर को विशेष राज्य का दर्जा देने वाने संविधान के अनुच्छेद 370 को हटाने के लिए तीखी आलोचना की। उन्होंने आरोप लगाया कि देश के 70 साल के इतिहास में किसी राज्य के टुकड़े कर केन्द्रशासित राज्य बना दिये जाने का वाकया पहले कभी नहीं हुआ। उन्होंने इस मुद्दे को लेकर विपक्षी पार्टियों के रूख पर असंतोष जताया और कहा कि लोकसभा में भले ही बहुमत नहीं था , लेकिन अन्नाद्रमुक, वाईएसआर कांग्रेस पार्टी , तेलंगाना राष्ट्र समिति, बीजू जनता दल, आम आदमी पार्टी, तृणमूल कांग्रेस और जनता दल(यूनाइटेड) ने सहयोग किया होता तो यह विधेयक राज्यसभा में पारित नहीं हो पाता। उन्होंने कहा कि विपक्ष का रवैया बहुत खेदजनक है। कांग्रेसी नेता ने कहा कि जम्मू कश्मीर की स्थिति बहुत अशांत है । राज्य में इंटरनेट समेत तमाम संचार तंत्रों पर लगाम कस दिया गया है , जिससे सही वस्तुस्थिति की जानकारी सामने नहीं आ पा रही है।