बजाज इलेक्ट्रिकल्स को 28.54 करोड़ का लाभ

बजाज इलेक्ट्रिकल्स को 28.54 करोड़ का लाभ

नई दिल्ली। बजाज इलेक्ट्रिकल्स लिमिटेड का एकल आधार पर शुद्ध लाभ मार्च 2019 को समाप्त तिमाही में उछलकर 28.54 करोड़ रुपए रहा। टिकाऊ उपभोक्ता खंड में मार्जिन सुधरने से कंपनी का लाभ बढ़ा है। इससे पिछले वित्त वर्ष 2017-18 की इसी तिमाही में कंपनी को 7.31 करोड़ रुपए का शुद्ध लाभ हुआ था। लाभ कम रहने का कारण 11.58 करोड़ रुपए की कर मांग होना था। बजाज इलेक्ट्रिकल्स ने बंबई शेयर बाजार को दी सूचना में कहा कि कंपनी की कुल आय मार्च 2019 को समाप्त तिमाही में 10.37 प्रतिशत बढ़कर 1,772.94 करोड़ रुपए रही जो एक साल पहले इसी तिमाही में 1,606.27 करोड़ रुपए थी। बजाज इलेक्ट्रिकल्स ने एक बयान में कहा, ‘‘कर पूर्व लाभ तथा कर बाद लाभ 2018-19 की चौथी तिमाही में क्रमश: 43.86 करोड़ रुपए तथा 28.54 करोड़ रुपए रहा। इससे पिछले वित्त वर्ष 2017-18 की इसी तिमाही में यह 43.85 करोड़ रुपए तथा 7.31 करोड़ रुपए था। पूरे वित्त वर्ष 2018-19 में बजाज इलेक्ट्रिकल्स का शुद्ध लाभ लगभग दोगुना होकर 167.07 करोड़ रुपए रहा, जो इससे पिछले वित्त वर्ष में 83.62 करोड़ रुपए था। कुल बिक्री आलोच्य वित्त वर्ष में 6,673.14 करोड़ रुपए रही जो इसे पिछले वित्त वर्ष 2017-18 के 4,716.39 करोड़ रुपए के मुकाबले 41.48 प्रतिशत अधिक है। कंपनी के निदेशक मंडल ने 31 मार्च 2019 को समाप्त वित्त वर्ष के लिये 2 रु पये के अंकित मूल्य के शेयर पर 3.50 रुपये प्रति शेयर लाभांश देने की सिफारिश की है। सिपला को 357.68 करोड़ रुपए का शुद्ध लाभ दवा कंपनी सिपला का एकीकृत शुद्ध लाभ मार्च में समाप्त वित्त वर्ष की चौथी तिमाही में दोगुना से अधिक बढ़कर 357.68 करोड़ रुपए रहा। इससे पिछले वित्त वर्ष 2017-18 की इसी तिमाही में कंपनी को 153.25 करोड़ रुपए का शुद्ध लाभ हुआ था। कंपनी ने 6,000 करोड़ रुपए की पूंजी जुटाने का भी निर्णय किया है। समीक्षावधि में कंपनी की परिचालन से कुल एकीकृत आय 4,403.98 करोड़ रुपए रही। जबकि इससे पिछले वित्त वर्ष की इसी अवधि में यह आंकड़Þा 3,697.97 करोड़ रुपए था। पूरे वित्त वर्ष 2018-19 में कंपनी का शुद्ध लाभ 1,492.44 करोड़ रुपए रहा। इससे पिछले वित्त वर्ष में यह 1,416.57 करोड़ रुपए था। इस दौरान कंपनी की कुल आय 16,362.41 करोड़ रुपए रही जो इससे पिछले वित्त वर्ष में 15,219.25 करोड़ रुपए थी।