नक्सली बनी बहन को भाई ने लिखा पत्र- रक्षाबंधन है, हथियार छोड़ दो, बहन बोली- अभी नहीं

नक्सली बनी बहन को भाई ने लिखा पत्र- रक्षाबंधन है, हथियार छोड़ दो, बहन बोली- अभी नहीं
बहन- वेट्टी कन्नी और भाई- वेट्टी रामा

रायपुर। यह कहानी कभी नक्सली कमांडर रहे वेट्टी रामा की है, जो आजकल पुलिस के लिए काम कर रहा है। हालांकि, उसकी बड़ी बहन वेट्टी कन्नी नक्सली संगठन के लिए काम कर रही है। बीते दिनों एक एनकाउंटर में दोनों आमने-सामने आ गए थे। वेट्टी रामा पुलिस के साथ और उसकी बहन नक्सलियों के साथ थी। दोनों का आमना-सामना हुआ, किन्तु इस बीच दोनों तरफ से गोलीबारी होनी शुरू हो गई। अंधाधुध गोलीबारी के बीच नक्सली वहां से भाग निकले। वेट्टी रामा ने बहन को मुख्यधारा से जोड़ने का प्रयास नहीं किया। बार-बार पत्र लिखे, किन्तु उसकी बहन ने दुबारा पत्र न भेजने की बात कही और नक्सल संगठन के लिए काम करने की बात कही। वेट्टी रामा ने एक पत्र में लिखा कि रक्षाबंधन करीब है, अब तो हथियार छोड़ दो, लेकिन हर बार की तरह इस बार भी वेट्टी कन्नी ने इंकार करते हुए कहा कि अभी नहीं।

वेट्टी रामा ने किया था पिछले साल समर्पण

वेट्टी रामा भी नक्सली संगठन में रह चुका है। 13 अक्टूबर 2018 को हथियार के साथ रामा ने पुलिस के समक्ष आत्मसमर्पण कर मुख्यधारा से जुड़कर काम करने की इच्छा जाहिर की थी। उसके बाद से वो पुलिस के लिए काम कर रहा है। रामा 23 वर्षों से नक्सली संगठन में सक्रिय था और कोंटा इलाके में वारदातों को अंजाम देने का काम रह रहा था। रामा के ऊपर 24 नामजद अपराध विभिन्न थानों मे दर्ज है। शासन द्वारा रामा पर 8 लाख का इनाम घोषित किया था।