फिर से चल निकलेगा कारोबार... आर्थिक संकट होगा दूर

फिर से चल निकलेगा कारोबार... आर्थिक संकट होगा दूर

इंदौर ।   निगम द्वारा दो साल पहले गोपाल मंदिर के सामने से हटाए गए दुकानदारों को अब राहत मिलने वाली है। बड़वाली चौकी पर संचालित हो रही दुकानों के मालिक गोपाल मंदिर के पीछे आकार ले रहे दो मंजिला शॉपिंग कॉम्प्लेक्स में व्यापार कर सकेंगे। स्मार्ट सिटी प्रोजेक्ट के तहत दुकानदारों को भारी विरोध के बीच हटाया गया था, तबसे ही दुकानदार उचित स्थान की मांग कर रहे थे। तत्कालीन निगमायुक्त मनीष सिंह ने गोपाल मंदिर तथा राजवाड़ा की दीवार से सटकर संचालित हो रही दुकानों को कड़ाई के साथ हटाया था। उन्हें अस्थायी रूप से बड़वाली चौकी में स्थान दिया गया है। यहां राजवाड़ा की अपेक्षा कारोबार कम होने से व्यापारियों की आर्थिक स्थिति बिगड़ने लगी है। लगातार विरोध के बाद निगम ने 5 करोड़ की लागत से मंदिर के पिछले हिस्से में शॉपिंग कॉम्प्लेक्स का निर्माण शुरू किया है। कॉम्प्लेक्स में 105 दुकानें बनाकर दी जाएंगी। 105 दुकानों में से 25 दुकानें गोपाल मंदिर ट्रस्ट व शेष 80 व्यापारियों को बेच दी जाएंगी। कार्रवाई रोकने विधानसभा क्षेत्र की विधायक रहीं उषा ठाकुर ने महापौर मालिनी गौड़ से चर्चा की थी। उनका कहना था कि वर्षों से कारोबार करने वालों को इस तरह बेदखल किया गया तो उनके सामने रोजी-रोटी का संकट खड़ा हो जाएगा, मगर महापौर ने प्रोजेक्ट का हवाला देकर ठाकुर के विरोध को ठंडा कर दिया था।

अक्टूबर में देंगे आवंटन

व्यापारियों को उनकी मांग के अनुसार दुकानें बनाकर दी जा रही हैं। दुकानों की साइज भी दुकानदारों ने तय की है। अक्टूबर माह के अंत तक दुकानों के आवंटन की प्रक्रिया निगम शुरू कर देगा। कॉम्प्लेक्स में केवल उन्हीं दुकानदारों को आवंटन दिया जाएगा, जिन्हें हटाया गया था। बाहरी दुकानदारों का कोई हिस्सा नहीं रहेगा।

देवउठनी और दिवाली की चमक

अक्टूबर व नवंबर माह में देवउठनी ग्यारस व दिवाली का पर्व आता है। इन पर्वों पर बाजार में ग्राहकों को रौनक बनी रहती है। वैवाहिक सीजन भी शुरू हो जाता है। इसके चलते शॉपिंग कॉम्प्लेक्स में दुकान लेने वाले दुकानदारों की चमक बढ़ जाएगी। आर्थिक संकट भोग रहे