आचार संहिता के बाद होगी सुपर स्पेशिलिटी में भर्ती

आचार संहिता के बाद होगी सुपर स्पेशिलिटी में भर्ती

ग्वालियर जेएएच का लोड कम करने के लिए बनाए जा रहे सुपर स्पेशिलिटी हॉस्पिटल में डॉक्टर्स भर्ती का प्रयास करने के मामले में प्रबंधन को झटका लगा है। प्रबंधन द्वारा आचार संहिता के दौरान डॉक्टर्स की भर्ती किए जाने की मांग को चुनाव आयोग ने खारिज कर दिया है। इसके बाद अब इस हॉस्पिटल के लिए स्पेशिलिस्ट डॉक्टर्स की भर्ती लोकसभा चुनाव निपटने के बाद ही शुरू हो पाएगी। जानकारी के मुताबिक निर्वाचन आयोग ने कहा इसके लिए भोपाल से चिकित्सा शिक्षा विभाग से अनुमति मांगी जानी चाहिए। केन्द्र व राज्य सरकार के सहयोग से 150 करोड़ रुपए की लागत से बन रहे सात मंजिला इस हॉस्पिटल के लिए अभी तक प्रबंधन पांच बार विज्ञप्ति निकालकर इंटरव्यू कर चुका है, लेकिन डॉक्टर्स की बेरूखी के चलते अभी तक केवल 16 डॉक्टर्स भी मिल पाए हैं। इधर प्रबंधन द्वारा अच्छे खासे पैकेज पर नियुक्त किए जा रहे अधिकतर डॉक्टर लंबे जेएएच में सेवाएं दे रहे हैं। करीब एक साल पहले बनकर तैयार होने वाला यह हॉस्पिटल अभी तक तैयार नहीं होने के कारण प्रबंधन को इनकी सेवाएं जेएएच हॉस्पिटल में ही लेनी पड़ रही है। इस हॉस्पिटल के लिए 88 स्पेशिलिस्ट डॉक्टर्स की जरूरत है।

निर्माण कार्य लगभग पूरा

हॉस्पिटल में सिविल वर्क का काम देख रही एचएससीसी कंपनी सिविल का वर्क लगभग पूरा कर चुकी है। कंपनी के अधिकारियों ने भी प्रबंधन को जल्द इसका कार्य पूरा कर हेंडओवर करने की बात हाल ही कही है। बिजली का काम अंतिम दौर में चल रहा है, आधी रोड भी डल चुकी है। लेकिन इसके शुरु होने पर चंद डॉक्टर्स ही यहां पर मरीजों का इलाज कर सकेंगे।