निगम ने की 15 तलघरों में तुड़ाई भाजपा नेत्री का होटल छोड़ा

निगम ने की 15 तलघरों में तुड़ाई भाजपा नेत्री का होटल छोड़ा

ग्वालियर। हाईकोर्ट द्वारा तलघरों पार्किंग करवाने के निर्देश पर निगम द्वारा चलाया गया तुड़ाई अभियान भी मुंह देखा अभियान साबित हुआ। क्योंकि अभियान के चलते कार्रवाई वाले 15 तलघरों में से 11 स्थानों से ही जुमार्ना 7.15 लाख वसूल किया गया। तो भाजपा नेत्री सुमन शर्मा के होटल में बने तलघर को छेड़ा तक नहीं गया। रविवार की सुबह 9 बजे सिटी प्लानर प्रदीप वर्मा व एसीपी महेन्द्र अग्रवाल हॉस्पिटल रोड पर होने वाली तुड़ाई के लिए बनी 6 टीमों का नेतृत्व करने वाले भवन अधिकारी राकेश कश्यप, वीरेन्द्र शाक्य, राजीव सोनी, पवन शर्मा, वेदप्रकाश निरंजन, राजेश रावत के साथ जयेन्द्रगंज चौराहे पर पहुंचे। साथ ही उन्होंने लगभग आधा दर्जन जेसीबी व मदाखलत अधिकारी महेन्द्र शर्मा, महेश पाराशर के साथ मौजूद जेड्ओ को चिन्हित स्रेहलता अग्रवाल, योगेश बंसल, डॉ. टीसी चांदिल (कार्तिक हॉस्पिटल), डॉ. खुशी रमानी (कायाकल्प हॉस्पिटल), अनिल रमेशचन्द्र, राम कुमार गुप्ता, राजीव गुप्ता, संजीव गुप्ता, गोविंद बागडोरिया (कल्याण हॉस्पिटल), डॉ.ध्रुब प्रेमी (प्रेमी हॉस्पिटल), विलायतीराम सूरी (श्रीजी डाग्नो सेंटर), नितिन झाम (श्रीगुरू कृपा टेडर्स), डॉ. केके अग्रवाल व डॉ. गौरव अग्रवाल (विद्या कैंसर चिक्तिसालय), राम फूलवदिया, हीरा चाड़क (चाड़क हॉस्पिटल) के तलघरों में जेसीबी व मदाखलत अमले द्वारा तुड़ाई शुरू करवा दी। भारी भरकम मशीनरी के साथ पहुंचे निगम अधिकारियों व मदाखलत गैंग को पुलिस बल के साथ देख भवन स्वामियों में हड़कंप मच गया और निगम अधिकारियों द्वारा तुड़ाई शुरू करते ही भवन स्वामियों ने तत्काल खुद के द्वारा तलघरों को खाली करवाने के लिए आगे आ गए और सामान निकालने के लिए निगम अधिकारियों से समय मांगा। इसके बाद निगम अधिकारियों ने देर शाम 4 बजे तक इंतजार किया और खाली तलघरों में बने अवैध निर्माण की तुड़ाई कर पार्किंग के लिए जल्द से जल्द रैंप व अन्य सुविधाएं तत्काल पूरी करने के लिए भवन स्वामियों को हिदायत दी।

भाजपा नेत्री के होटल को देखा तक नहीं

भले ही भाजपा प्रदेश की सत्ता से बाहर हो गई हो, लेकिन निगम अफसरों पर अभी भी उनका दबाव कायम है। यहीं कारण है कि तुड़ाई करने वाले मार्ग पर स्थित भाजपा नेत्री सुमन शर्मा के गोल्डन पैलेस होटल में बना तलघर किसी भी निगम अधिकारी को नहीं दिखा और इसी कारण उस पर तुड़ाई नहीं हो सकी। हालांकि निगम अधिकारियों का तर्क है कि वह तलघरों पर कार्रवाई वाली सूची में नहीं था।

कार्रवाई 15 पर, 7.15 लाख जुर्माना केवल 11 पर

निगम द्वारा तलघरों में पार्किंग के लिए की गई कार्रवाई में अवैध निर्माणकर्ताओं पर 65-65 हजार का जुमार्ना किया गया। लेकिन अह्म बात यह रही कि कार्रवाई 15 लोगों पर करने के बाद जुमार्ना केवल 11 लोगों से राशि 7.15 लाख ही वसूल की गई। क्योंकि इसके लिए निगम के वरिष्ठ अधिकारी सहित राजनेताओं के फोन आने पर विलायतीराम सूरी (श्रीजी डाग्नो सेंटर), डॉ.ध्रुब प्रेमी (प्रेमी हॉस्पिटल)व अन्य दो लोगों ने जुर्माना नहीं दिया।