दाभोलकर को दो बार मारी थी गोली, पीछे से सिर में फिर सामने से आंख पर

दाभोलकर को दो बार मारी थी गोली, पीछे से सिर में फिर सामने से आंख पर

नई दिल्ली। नरेंद्र दाभोलकर हत्याकांड के मुख्य आरोपी आरोपी शरद कालस्कर ने गुरुवार को कबूल किया कि उसने दाभोलकर के सिर में दो गोली मारी थी। आरोप ने कर्नाटक पुलिस को बताया कि उसने सबसे पहले दाभोलकर को पीछे से सिर में गोली मारी इसके बाद जब वह नीचे गिरे तो उनकी दांई आंख के ऊपर के हिस्से पर दूसरी गोली दागी। आरोपी ने कबूल किया कि सामाजिक कार्यकर्ता गोविंद पानसरे और पत्रकार गौरी लंकेश की हत्याकांड में भी वह शामिल था। कालस्कर को पिछले साल अक्टूबर में गिरμतार किया गया था। इस केस में उससे लगातार पूछताछ की जा रही थी।

हत्या से पहले मिली थी ट्रेनिंग

कालस्कर ने कबूल किया कि हत्या से पहले उसे ट्रेनिंग दी गई थी। ट्रेनिंग के दौरान उसे मुस्लिम कट्टरता, लव जिहाद, गौहत्या और हिंदू धर्म पर प्रवचन पर वीडियो दिखाए गए। साथ-साथ बम बनाने और बंदूक चलाने की ट्रेनिंग दी गई। इस दौरान उससे लगातार कहा जाता था कि तुम्हें धर्म के खिलाफ रहने वालों का मर्डर करना है। दाभोलकर की हत्या की बाद 2016 में बेलगाम में मीटिंग हुई थी जिसमें गौरी लंकेश को अगला टारगेट तय किया गया।