धोनी बीसीसीआई के केंद्रीय अनुबंध से बाहर

धोनी बीसीसीआई के केंद्रीय अनुबंध से बाहर

नई दिल्ली। भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड (बीसीसीआई) ने दो बार के विश्व विजेता कप्तान और विकेटकीपर बल्लेबाज महेंद्र सिंह धोनी को अपने केंद्रीय अनुबंध से बाहर कर दिया है और इसके साथ ही धोनी का करियर भी समाप्ति की ओर अग्रसर हो चला है। बीसीसीआई ने भारतीय खिलाड़ियों के लिए गुरुवार को केंद्रीय अनुबंध की सूची जारी की जो अक्टूबर 2019 से सितंबर 2020 की अवधि के लिए है, लेकिन इसमें आश्चर्यजनक रूप से धोनी को किसी भी ग्रेड में जगह नहीं मिली है। धोनी पिछले साल जुलाई में इंग्लैंड में हुए एकदिवसीय विश्वकप के सेमीफाइनल में भारत की हार के बाद से ही क्रिकेट मैदान से बाहर चल रहे हैं।

अनुबंध में विराट सीमित ओवरों के उपकप्तान

टेस्ट क्रिकेट से काफी पहले संन्यास ले चुके धोनी ने अब तक एकदिवसीय और टी-20 क्रिकेट से संन्यास नहीं लिया है। केंद्रीय अनुबंध से बाहर होने के बाद उनके करियर पर सवालिया निशान लग गया है। बीसीसीआई के ए प्लस अनुबंध में भारतीय कप्तान विराट कोहली, सीमित ओवरों के रोहित शर्मा और तेज गेंदबाज जसप्रीत बुमराह को रखा गया है, जिन्हें सात करोड़ रुपए सालाना मिलेंगे।

धोनी के बाहर होने की उन्हें पहले ही देदी थी सूचना

बीसीसीआई ने कहा कि के्र दीय अनुबंध सूची से महेंद्र स्ािंह धोनी को बाहर करना तय था। उन्हें राष्ट्रीय चयन समिति ने सूची को अंतिम रू प देने से पहले इसकी जानकारी दे दी थी। पूर्व कप्तान अगर इस साल टी-20 टीम में शामिल होते हैं तो उन्हें सूची में फिर जगह मिल सकती है। इसकी संभावना कम है। दो बार के विश्व कप विजेता 38 वर्षीय पूर्व कप्तान का सूची से बाहर होना चौकाने वाला नहीं है क्योंकि उन्हें करीब छह महीने से अंतर्राष्ट्रीय क्रिकेट नहीं खेला है। अधिकारी ने कहा ,‘मैं स्पष्ट करना चाहता हूं कि बीसीसीआई पदाधिकारियों में से एक ने धोनी से बात करके उन्हें कें्र दीय अनुबंधों के बारे में बताया था। उन्हें साफ तौर पर बताया गया कि चूंकि उन्होंने सितंबर 2019 से अब तक कोई मैच नहीं खेला है तो उन्हें सूची में नहीं रखा जा सकता।