कार्रवाई के डर से नाबालिग दुल्हन को लेकर दूल्हा गायब

कार्रवाई के डर से नाबालिग दुल्हन को लेकर दूल्हा गायब

भोपाल।    जिले में मंगलवार को नाबालिग लड़की के विवाह का मामला सामने आया है। इस विवाह को रुकवाने के लिए चाइल्ड लाइन और महिला एवं बाल विकास विभाग के अधिकारियों के साथ अशोका गार्डन पुलिस ने भी प्रयास किया, लेकिन मामला जन्म तिथि के दो दस्तावेज सामने आने के बाद उलझ गया है। शादी करने वाले लड़के-लड़की के साथ लड़की की मां भी गायब है। इधर पुलिस का कहना है कि मामले की जांच चल रही है। जब तक लड़का-लड़की नहीं मिल जाते, तब तक यह नहीं कहा जा सकता है कि उन्होंने शादी की है या नहीं। हालांकि चाइल्ड लाइन और महिला एवं बाल विकास की ओर से लिखित आवेदन मिला है, इसमें नाबालिग लड़की की शादी, उनके माता-पिता द्वारा कराने की शिकायत है। इधर महिला एवं बाल विकास विभाग के अधिकारियों का कहना है कि बुधवार को दूल्हा दुल्हन के परिजनों पर एफआईआर दर्ज कराई जाएगी।

दूल्हादुल्हन की शादी कराने मंदिर पहुंचे परिजन

चाइल्ड लाइन की डायरेक्टर अर्चना सहाय ने बताया कि दोपहर में फोन आया कि गायत्री नगर इंडस्ट्रीयल एरिया में उजाला (परिवर्तित नाम) का विवाह कराया जा रहा है। टीम मौके पर पहुंची तो वहां लड़की के पिता रोहित और उनका बेटा मिला। जिसने बताया कि लड़की बालिग है और उसकी शादी पड़ोस के लड़के से हो रही है। उन्होंने बेटी की आठवीं की मार्कशीट भी दिखाई। इसमें जन्मतिथि वर्ष 1999 दर्ज थी। सहाय ने टीम को लड़की के स्कूल भेजा। वहां से रजिस्टर में जन्म तिथि 2003 पाई गई। इस आधार पर सामने आया कि लड़की 16 वर्ष की है। टीम ने इस आधार पर विवाह रुकवाने का प्रयास किया, तब तक लड़की-लड़का और लड़की की मां गायब हो चुके थे। लड़की के पिता ने बताया कि वे कंकाली मंदिर में विवाह कर रहे हैं। अशोका गार्डन पुलिस के साथ टीम पहुंची तो तीनों नहीं मिले। पुलिस को पिता ने बताया कि मां, बेटी की शादी कराने ले गई है। सूत्र बताते हैं कि लड़की युवक से प्रेम करती है। यही वजह है कि विवाह हो रहा था। मंदिर के पुजारी ने पुलिस को बताया कि दुल्हन, दूल्हा, उसकी मां और उसका भाई चारों शादी के लिए आए थे, पर शादी अधूरी छोड़कर चले गए।