ईद मुबारक:कौमी एकता ही हमारी सबसे बड़ी रहमत और दौलत

ईद मुबारक:कौमी एकता ही हमारी सबसे बड़ी रहमत और दौलत

जबलपुर ।  कौमी एकता ही हमारी सबसे बड़ी रहमत और दौलत है। इसको हमें संभालना है, कौमी एकता मुल्क की तरक्की के लिए जरूरी है। तमाम लोग मिलकर त्योहार मनायें, जैसे ईद मनाई जा रही है वैसे ही अन्य त्याहारों को मिलकर मनायें। ये बात रानीताल ईदगाह में मुμती-ए-आजम मप्र हजरत मौलाना हामिद अहमद सिद्दकी ने कही। इस मौके पर कलेक्टर भरत यादव, एसपी अमित सिंह ने सभी को ईद की शुभकामनायें दीं। इस अवसर पर मुस्लिम बंधुओं ने एक-दूसरे से गले मिलकर ईद की मुबारकबाद दी। इस दौरान कैबिनेट मंत्री लखन घनघोरिया ने मौलाना साहब व मुस्लिम बंधुओं को ईद की बधाई दी। इस मौके पर मौलाना साहब ने मुसलमानों से आव्हान किया कि हज पर जाने समय बड़ी तादाद में ढोल-ढमाके के साथ स्टेशन न जाएं। उन्होंने प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के सबका साथ सबका विकास संदेश का समर्थन किया और कहा कि पूरा हिन्दुस्तान एक है और हम सब भारतीय एक हैं।

प्रशासन की सराहना

उन्होंने बिजली सप्लाई, प्रशासनिक व्यवस्था की सराहना की। मुμती-एआ जम ने देश और प्रदेश के दूसरे मसलों पर भी समाज का ध्यान आकर्षित कराते हुए हज यात्रा के लिए रेलवे द्वारा दी गई ट्रेन पर धन्यवाद व्यक्त किया।

मंत्री, कलेक्टर, एसपी से मिले गले

रानीताल ईदगाह में नमाज के बाद मुस्लिम भाइयों को बधाई देने लोगों का तांता लग गया। वहीं मौलाना साहब को कैबिनेट मंत्री लखन घनघोरिया, दिनेश यादव, कार्यकारी अध्यक्ष मतीन अंसारी, अतुल बाजपेयी सहित कलेक्टर भरत यादव व एसपी अमित सिंह ने बधाई दी।

यहां भी हुई नमाज

गढ़ा काजी मोहल्ला में हाफिज मोहम्मद फहीम अशरफी ने नमाज अदा कराई। ईदगाह गोहलपुर में हाफिज मो. तारिक ने नमाज अदा की। सदर बाजार में मौलाना सैयद बरकात अहमद कौसर रब्बानी, शिया जामा मस्जिद फूटाताल में मौलाना सैयद नजर अब्बास ने ईदुज्जुहा की नमाज के बाद लोगों को मुबारकबाद दी।