अगले माह निगम का खत्म होगा वित्तीय संकट

अगले माह निगम का खत्म होगा वित्तीय संकट

विकास कार्यों का जायजा लेने आए नगरीय प्रशासन विभाग के प्रमुख सचिव संजय दुबे बोले
निगम के पास वित्तीय संकट बना होने से विकास कार्य प्रभावित हो रहे हैं। कई ठेकेदारों ने काम बंद कर दिया है। योजनाओं को भी विराम देना पड़ रहा है। सरकार निगम को बकाया राशि शीघ्र वापस करेगी, जिससे अगले माह मार्च में वित्तीय संकट खत्म हो जाएगा। यह बात  नगरीय प्रशासन विभाग के प्रमुख सचिव संजय दुबे ने कही। वे शनिवार को शहर में चल रहे विकास कार्यों का जायजा लेने आए थे। उन्होंने निर्माणाधीन कार्यों की प्रगति देखते हुए अधिकारियों को निर्देशित किया कि गुणवत्ता का विशेष ध्यान रखा जाए। काम समयसीमा में पूर्ण किए जाएं। 
चुनाव की कवायद शुरू- निरीक्षण के बाद पत्रकारों से चर्चा करते हुए श्री दुबे ने कहा कमलनाथ सरकार ने निकाय चुनाव को लेकर कवायदें शुरू कर दी हैं। सबकुछ ठीक रहा तो शीघ्र ही आचार संहिता प्रदेश में लग जाएगी। 20 फरवरी को वर्तमान निगम परिषद का कार्यकाल समाप्त होने के बाद निगम में प्रशासक नियुक्त कर दिए जाएंगे। 
अवार्ड को लेकर सरकार चिंतित- उन्होंने कहा कि अगले माह इंदौर और भोपाल में सबसे बड़े आयोजन के रूप में आईफा अवार्ड होने जा रहा है। इसे लेकर सरकार अभी से चिंतित नजर आ रही है। इसी के चलते लगातार विभिन्न विभागों के प्रमुख सचिव स्तर के अधिकारी विभिन्न प्रोजेक्ट की समीक्षा कर रहे हैं।  
लक्ष्य पूरा करेंगे- दुबे पलासिया के 56 दुकान पर चल रहे विकास कार्यों को देखने भी पहुंचे। उन्होंने यहां कहा कि हमने 56 दिनों में 56 दुकान के विकास कार्य का लक्ष्य रखा है, जिसे हम पूरा करेंगे। राजवाड़ा पर नो व्हीकल जोन बनाया जाना बहुत जरूरी है, इसके बाद ही राजवाड़े का मूल स्वरूप निखरकर सामने आएगा।