ज्ञानपुंज दल गठित, अगले महीने से स्कूलों जाकर पढ़ाएगा

ज्ञानपुंज दल गठित, अगले महीने से स्कूलों जाकर पढ़ाएगा

ग्वालियर। जिले के ऐसे शासकीय स्कूलों जहां अंग्रेजी, गणित, विज्ञान और सामाजिक विज्ञान विषय के शिक्षक नहीं हैं, वहां जाकर दल के सदस्य जाकर बच्चो को पढ़ाएंगे। दल अभी स्कूलों में चल रहे ब्रिज कोर्स और एक परिसर एक शाला निरीक्षण का काम कर रहा है। शिक्षा विभाग ने जिले के लिए गठित ज्ञानपुंज दल में चार वरिष्ठ शिक्षकों को शामिल किया है। शिक्षक स्कूलों में जाकर अंग्रेजी, गणित, विज्ञान और सामाजिक विज्ञान विषय पढ़ाने के साथ-साथ चारों विषय पढ़ाने वाले शिक्षकों को अगर पढ़ाने में परेशानी आ रही है तो वह शिक्षक की काउंसलिंग करके परेशानी को दूर करेंगे। दल को 24 स्कूलों (ब्रिज कोर्स और एक परिसर एक शाला ) के निरीक्षण की जिम्मेदारी दी गई है, अभी तक दल ने 17 स्कूलों का निरीक्षण कर लिया है और अगले कुछ दिनों में बाकी के बचे स्कूलों का निरीक्षण कर लेगा।

इन स्कूलों में जाकर कक्षाएं लेगा दल

शा. हायसेकंडरी स्कूल सिमिरियाताल, हायसेकंडरी स्कूल करियावटी, हायरसेकंडरी मॉडल स्कूल डबरा, हायरसेकंडरी स्कूल घासमंडी, हायरसेकंडरी स्कूल हुजरात, हायरसेकंडरी ज्ञानोदय विद्यालय, हायरसेकंडरी स्कूल अकईबड़ी, हायरसेकंडरी स्कूल बीजापुर, हायरसेकंडरी स्कूल मोहना, हायरसेकंडरी स्कूल सेंवथ बटालियन, हायरसेकंडरी स्कूल रेशम मिल, हायरसेकंडरी स्कूल करहिया भितरवार, हायरसेकंडरी स्कूल बरोल डबरा, हायरसेकंडरी स्कूल खड़वई डबरा, हायरसेकंडरी स्कूल केदारपुर, हायरसेकंडरी स्कूल थाटीपुर, हायरसेकंडरी स्कूल महाराजपुरा, हायरसेकंडरी स्कूल बरोथा, हायरसेकंडरी स्कूल सालवई डबरा, हायरसेकंडरी स्कूल नौमहला मुरार, हायरसेकंडरी स्कूल गेंडेवाली सड़क, हायरसेकंडरी गर्ल्स स्कूल शिंदे की छावनी।

दल 15 दिन पढ़ाएगा और 15 दिन अकादमिक योजना बनाएगा

दल के चारों शिक्षकों को जिले के 23 स्कूलों में जाकर पढ़ाने की जिम्मेदारी दी गई है। दल 15 दिन स्कूलों में जाएगा और 15 दिन आॅफिस में रहकर कम रिजल्ट देने वाले स्कूलों का रिजल्ट सुधारने के लिए कार्ययोजना बनाएगा। साथ ही टेस्ट पेपर तैयार करना, सवाल बैंक बनाना, रेमेडियल कक्षाओं की मॉनीटरिंग का कार्य भी करेगा। दल में विज्ञान विषय मंजू पुरोहित, गणित संजीव पांडे, अंग्रेजी दिव्यांगना त्रिपाठी और सामाजिक विज्ञान के लिए अमरबंदू उपाध्याय शामिल किए गए हैं।