अवैध तरीके से लगाए बैनर-पोस्टर और होर्डिंग से शहर की सूरत हो रही बदरंग

अवैध तरीके से लगाए बैनर-पोस्टर और होर्डिंग से शहर की सूरत हो रही बदरंग

इंदौर । स्वच्छता अभियान में चौथी बार नंबर-1बनने के लिए बड़े पैमाने पर काम चल रहा है। स्वच्छता और शहर की सुंदरता के हर बिंदु पर नगर निगम काम कर रहा है, लेकिन शहर के विभिन्न चौराहोें, प्रमुख मार्गों व अन्य मार्गों पर अवैध रूप से बैनर, पोस्टर, होर्डिंग और फ्लेक्स लगाकर शहर की सुंदरता पर पानी फेरा जा रहा है। इस व्यवस्था को खत्म करने के लिए महापौर ने सख्ती से कदम उठाया है। महापौर ने तीन मंत्री और पांच विधायकों को चिट्ठी लिखकर शहर में लगे अवैध होर्डिंग को हटाने के लिए सहयोग मांगा है। महापौर ने अपने पत्र में लिखा है कि शहर ने गत कुछ वर्षों में देश ही नहीं, बल्कि विदेशों में भी अपना नाम ऊंचा किया है। स्वच्छता में इंदौर तीन साल से देश में प्रथम स्थान पर आ रहा है। हमारे शहर की सफाई व्यवस्था देखने व सफाई की टिप्स लेने के लिए देशभर से जनप्रतिनिधि, अधिकारी प्रतिदिन यहां आ रहे हैं। हमें अब स्वस्थ इंदौर स्वच्छ इंदौर की तर्ज पर काम करना है। पिछले कुछ माह से देखने में आ रहा है कि शहर में विभिन्न चौराहों, प्रमुख मार्गों व अन्य मार्गों पर अवैध रूप से बैनर, पोस्टर, होर्डिंग और फ्लेक्स लगाकर शहर को बदरंग किया जा रहा है, जिससे हमारे स्वच्छ, सुंदर और स्मार्ट शहर की छवि पर विपरीत प्रभाव पड़ रहा है। हम सब मिलकर इन पोस्टर, होर्डिंग और फ्लेक्स को हटाएं। इसमें आप सभी का सहयोग जरूरी है। अगले साल स्वच्छता सर्वेक्षण होना है। यह काम आप सभी के सहयोग से पूरा हो सकेगा और हम फिर से नंबर वन बन सकेंगे।

इनको लिखी चिट्ठी

महापौर ने पीडब्ल्यूडी मंत्री सज्जनसिंह वर्मा, स्वास्थ्य मंत्री तुलसी सिलावट, शिक्षा व खेल मंत्री जीतू पटवारी, विधायक रमेश मेंदोला, महेंद्र हार्डिया, आकाश विजयवर्गीय, संजय शुक्ला तथा विशाल पटेल के साथ भाजपा नगर अध्यक्ष गोपी नेमा तथा कांग्रेस के शहर अध्यक्ष विनय बाकलीवाल को अलग-अलग चिट्ठी लिखकर सहयोग की अपील की है।