सड़क किनारे होने वाली अवैध पार्किंग नहीं हट पा रहीं, रोज लगता है जाम

सड़क किनारे होने वाली अवैध पार्किंग नहीं हट पा रहीं, रोज लगता है जाम

जबलपुर ।  शहर के प्रमुख स्थल शॉपिंग मॉल, होटलों से सजे हैं लेकिन यहां की सड़कें जाम से जूझ रही हैं। सड़कों पर अवैध पार्किंग के कारण शहर में दर्जनों जगह जाम की स्थिति निमित् हो रही है और राहगीरों का निकलना मुश्किल हो रहा है। सड़कों पर पार्किंग के कारण पहले ही सड़कें संकरी हो जाती हैं। गौरतलब है कि रसल चौक, गोरखपुर मैन मार्केट, लार्डगंज, बड़ा फुहारा, सराफा, मालवीय चौक जैसे व्यस्त इलाकों में दर्जनों स्थल पर पार्किंग का अभाव है। जयंती कॉम्पलेक्स की पार्किंग में खड़े वाहनों की संख्या बढ़ने पर सड़क तक आ जाते हैं और यहां निकलने में लोगों को घंटों इंतजार करना पड़ता है।

वनवे रूटों के हालात बिगड़े

यातायात अमले ने प्रशासन के साथ शहर के प्रमुख मार्गों पर वन-वे रूट तय किए थे। शाम को यहां वन-वे लागू तो हो जाता है लेकिन खाली सड़क पर अवैध पार्किंग शुरू हो गई है। हालात ये है कि वन-वे रूट का प्लान फेल होता नजर आने लगा है। वन वे रूट के लिए ट्रैफिक पुलिस तैनात रहते हैं लेकिन वे सिर्फ चौराहों पर वाहनों का प्रवेश रोकने तक सीमित हैं। ऐसे में वन वे रूट के लिए बने प्लान को पलीता लग रहा है।

अंडर ग्राउंड पार्किंग में बनी दुकानें

राहगीरों का कहना है कि जयंती कॉम्प्लेक्स बनाने के दौरान अंडर ग्राउंड पार्किंग के लिए जगह दी गई है, लेकिन इस जगह पर दुकानें बना दी गई जहां वाहन खड़े होने से वहां मोबाइल शॉप की दुकानें चल रही हैं। यहां खड़े होने वाले वाहन सड़कों पर आ गए। पार्किंग में खड़े वाहनों से 10 से 20 रुपए तक वसूले जा रहे हैं, इसके बाद भी इस समस्या का समाधान नहीं किया गया। एक के बाद एक कर वाहनों को यहां खड़ा कर दिया जाता है।

होटल, शॉपिंग कॉम्प्लेक्स की पार्किंग भी हो रही सड़क पर

शहर में कई होटल हैं जिनमें या तो पार्किंग नहीं है यदि है भी इसके बाद भी वाहनों को सड़क पर पार्क किया जा रहा है। जबकि कॉम्प्लेक्स के बाहर बनी पार्किंग में सिर्फ दोपहिया वाहनों की पार्किंग होने की वजह से चार पहिया वाहन सड़कों पर नजर आ रहे हैं। शहर में ऐसे कई शॉपिंग काम्प्लेक्स हैं, जिनकी स्थिति ऐसी बनी हुई है। इन मार्गों पर शाम के वक्त घंटों जाम की स्थिति निर्मित रहती है।