सरकारी योजनाओं का क्रियान्वयन समन्वय से करें

सरकारी योजनाओं का क्रियान्वयन समन्वय से करें

ग्वालियर। मप्र की राज्यपाल श्रीमती आनंदीबेन पटेल ने गुरूवार को मुरार सर्किट हाउस में विभागीय अधिकारियों की बैठक लेकर कहा कि शासन की जन कल्याणकारी योजनाओं और कार्यक्रमों का क्रियान्वयन सभी विभाग आपसी समन्वय से करें। राज्यपाल ने योजनाओं की समीक्षा के दौरान कहा कि आमजनों के हितार्थ संचालित योजनाओं का लाभ पात्र हितग्राहियों को समय पर मिले। जरूरतमंद को उसकी जरूरत के समय मदद मिले। इन योजनाओं का लाभ दिलाने की महती जवाबदारी विभागीय अधिकारियों की रहती है। इस बैठक में कलेक्टर भरत यादव, एसपी नवनीत भसीन, सीईओ जिला पंचायत शिवम वर्मा, रेडक्रॉस समिति के सचिव डॉ. आरपी शर्मा, अपर कलेक्टर अतुल सिंह, महिला एवं बाल विकास अधिकारी राजीव सिंह, सीएमएचओ डॉ. मृदुल सक्सेना एवं डीपीसी उपस्थित थे।

योजनाओं के क्रियान्वयन को प्राथमिकता दें : राज्यपाल आनंदीबेन पटेल ने कहा कि स्वास्थ्य, शिक्षा और महिला बाल विकास विभाग की योजनाओं के क्रियान्वयन को प्रशासन सर्वोच्च प्राथमिकता दे। कुपोषण निवारण के क्षेत्र में भी विशेष प्रयास जरूरी हैं। रेडक्रॉस समिति की समीक्षा के दौरान कहा कि समिति के सदस्यों की संख्या बढ़ाने की दिशा में प्रयास किए जाएं। साथ ही कुपोषण निवारण में सामाजिक संस्थाओं के साथ समाज के सभी वर्गों का सहयोग मिले। शिक्षा विभाग की समीक्षा के दौरान उन्होंने कहा कि स्कूल छोड़ चुके बच्चों को पुन: शिक्षा की मुख्य धारा से जोड़ने हेतु शिक्षा विभाग निरंतर प्रयास करे और सभी बच्चों को शिक्षा मिले, ऐसा माहौल बनाया जाए। बैठक के बाद राज्यपाल से रेडक्रॉस समिति के पदाधिकारियों सचिव डॉ. आरपी शर्मा, डॉ. केशव पांडेय, डॉ. ओएन कौल, मेजर आशा माथुर आदि ने भेंट की।