इमरान खान ने पीओके के बाशिंदों को एलओसी पार नहीं करने की चेतावनी दी

इमरान खान ने पीओके के बाशिंदों को एलओसी पार नहीं करने की चेतावनी दी

इस्लामाबाद। पीएम इमरान खान ने पाकिस्तान के कब्जे वाले कश्मीर (पीओके) के बाशिंदों से कहा है कि वे कश्मीर के लोगों को मानवीय सहायता पहुंचाने के लिए नियंत्रण रेखा (एलओसी) पार न जाएं। जम्मू कश्मीर लिबरेशन फ्रंट के आह्वान पर शुक्रवार को पीओके के विभिन्न हिस्सों से हजारों की संख्या में लोगों ने मुजμफराबाद तक मोटरसाइकिल एवं अन्य गाड़ियों की रैलियां निकाली थी। 

इधर इमरान के विरोध में उतरे चरमपंथी नेता

चरमपंथी नेता फजलुर रहमान अब इमरान खान के खिलाफ मैदान में उतर आए हैं। एक समय था, जब इमरान खान ने सेना और चरमपंथी नेताओं का ही साथ लिया था, लेकिन अब ये दोनों ही उनकी राह के कांटे साबित हो रहे हैं। जमीयत उलेमा-एइस् लाम के प्रमुख फजलुर रहमान ने आजादी मार्च का ऐलान करते हुए कहा है कि यह तब तक समाप्त नहीं होगा, जबतक इस सरकार का पतन नहीं हो जाता। उन्होंने पेशावर में कहा, पूरा देश हमारा युद्धक्षेत्र (वॉरजोन) होगा। 

दुनिया में हमारे साथ कोई नहीं, समझें इमरान

इस बीच पाकिस्तान के पूर्व विदेश मंत्री ख्वाजा आसिफ ने इमरान खान सरकार को झूठ बोलने वालों की सरकार बताते हुए कहा कि कश्मीर मुद्दे पर संयुक्त राष्ट्र में हुई फजीहत के बाद हमें ये स्वीकार कर लेना चाहिए कि दुनिया में हमारे साथ कोई नहीं है। आसिफ को पाकिस्तान में उनकी स्वच्छ छवि और साफगोई के लिए जाना जाता है। वो ब्यूरोक्रेट से राजनीति में आए थे और लंबे वक्त तक नवाज सरकार में विदेश मंत्री रहे।