कमला नगर में बच्ची की रेप के बाद हत्या, आरोपी ने पूछताछ में कबूली वारदात

कमला नगर में बच्ची की रेप के बाद हत्या, आरोपी ने पूछताछ में कबूली वारदात

भोपाल ।   मां बोली- ऐसी सजा दो किसी भी सोनू की मां के आंसू न बहें‘

करीब डेढ़ महीने पहले तीसरे नंबर की बेटी की शादी हुई, तो मेरी सोनू (परिवर्तित नाम) उससे खूब लड़ी कि 'तू हम सबको छोड़कर जा रही है।’ ईद पर सब बेटियां घर आर्इं तो वो हमसे बोली-'अम्मी! ये सब तुझे छोड़कर जा रही हैं, लेकिन मैं तुझे छोड़कर कभी नहीं जाऊंगी।' छोड़कर न जाने का वादा करने वाली मेरी सोनू को उस दरिंदे ने मुझसे हमेशा के लिए छीन लिया। तुम्हारी अनमोल चीज, तुम्हारा बच्चा, कोई तुमसे छीन ले, तो छीनने वाले से कैसी नफरत होगी? मुझे उस आदमी से वैसी ही नफरत है।’ आंखों में आंसू और गुस्सा लिए ये शब्द उस मां के हैं, जिसकी दस साल की बच्ची कमला नगर क्षेत्र में अपने ही पड़ोसी की हैवानियत का शिकार बन गई। पीपुल्स समाचार से बात करते हुए बच्ची की मां ने कहा कि बस दरिंदे को ऐसी सजा दो कि फिर किसी सोनू की मां आंसू न बहाए। बातचीत के दौरान अपनी बेटी की एक-एक शरारत और नादानी को याद कर कभी वह आंसू भरे चेहरे के बीच मुस्कुरा देतीं, तो कभी उनके आंसुओं का सैलाब हिचकियों में बदल जाता। अपनी बेटी का मासूम चेहरा याद कर वे कहने लगीं- मेरी बेटी पूरे मोहल्ले वालों की लाड़ली थी। उसे घूमने-फिरने का तो खूब शौक था। इसी ईद पर वह रायसेन किला घूमने गई थी सबके साथ। वहां उसने सबके साथ खूब मस्ती की। वह कहती हैं, घूमने जाने से पहले उसने खूब मेकअप किया था। रायसेन किला घूमने के दौरान उसने खूब फोटो खिंचवाई। अब तो ये फोटो ही उसकी यादों का सहारा हैं।

पहली बार रखा था रोजा

मेरी बच्ची ने इस साल पहली बार रोजा रखा था। हमने उसकी रोजा कुशाई कराई थी। उसकी बुआ थीं, लेकिन उन्हें इस बात का पता नहीं था। सोनू अब भी थोड़ा तुतलाती थी। तुतलाते हुए ही उसने बुआ को खूब छेड़ा कि मुझे रोजा इμतारी नहीं दी, अब फेनी खिलाओ। बुआ से इμतारी के पैसे लेकर ही मानी। मुझे अल्लाह से भी शिकायत है कि उसके पहले रोजे का सबाब उसे ऐसा दिया। घर के पास शैतान पल रहा था, अल्लाह ने उसे ऐसी मति दी कि सब लुट गया।

अम्मी तुम सजकर अच्छी लगती हो: मां ने कहा कि सोनू को खुद तो सजने का शौक था। वह मुझे भी सजाती थी। कहती थी- अम्मी तुम सजकर अच्छी लगती हो। जब मैं सोती थी, तब भी वह मुझे पावडर लिपस्टिक लगाती थी। उसकी हर बात याद आती है। कैमरे के सामने कबूला गुनाह आरोपी के बयानों की पुलिस ने वीडियोग्राफी कराई। कैमरे के सामने आरोपी ने अपना जुर्म कबूल किया है। पुलिस ने कैमरे के सामने ही एक-एक बिंदु पर पूछताछ कर उसका वीडियो बनाया। पुलिस ने लिखित में भी उसके बयान दर्ज किए हैं।

सुबह फेंकने से पहले भी बच्ची के शव से किया था कुकृत्य

कमला नगर थाना क्षेत्र में बच्ची से बलात्कार और उसकी हत्या के मामले में गिरफ्तार आरोपी विष्णु प्रसाद ने पूछताछ में पुलिस को बताया कि वह घर के दरवाजे पर देशी शराब पीकर बैठा था। इसी बीच बच्ची गुजरी, तो उसका मुंह दबाकर घर के अंदर घसीट ले गया। वह शोर न मचा सके, इसलिए उसका मुंह दबा दिया और ज्यादती करता रहा। जब तक उसकी हवस पूरी हुई, बच्ची की मौत हो चुकी थी। आरोपी ने बताया कि सुबह नाले में लाश फेंकने के पहले भी उसने बच्ची से कुकृत्य किया। इधर, पुलिस ने 48 घंटे के अंदर चालान पेश करने की तैयारी पूरी कर ली है। पुलिस का दावा है कि आरोपी को फांसी के फंदे तक पहुंचाने के लिए पर्याप्त सबूत व साक्ष्य हैं। फॉरेंसिक अफसरों ने मृतका और आरोपी का डीएनए सैंपल सहित कुछ अन्य सैंपल भी लिया है। दर्जनभर अहम गवाह भी पुलिस ने तैयार कर लिए हैं ।

चोरी के मामले में जा चुका है जेल

आरोपी विष्णु लंबे समय तक इंदौर में भी रहा है। वहां उसके खिलाफ चोरी का एक मामला दर्ज हुआ था, जिसमें वह जेल भी होकर आया था।

7 साल पहले पत्नी छोड़कर चली गई थी

आरोपी की सात 7 पहले शादी हुई थी। एक महीने बाद ही पत्नी उसे छोड़कर चली गई थी। तभी से आरोपी अकेला रह रहा था। दो महीने पहले ही मां को साथ लेकर भोपाल स्थित मांडवा बस्ती रहने पहुंचा था। बेटी के गम मेें बदहवास मां। पुलिस की गिरफत में आरोपी। पहली बार रखा था रोजा मेरी बच्ची ने इस साल पहली बार रोजा रखा था। हमने उसकी रोजा कुशाई कराई थी। उसकी बुआ थीं, लेकिन उन्हें इस बात का पता नहीं था। सोनू अब भी थोड़ा तुतलाती थी। तुतलाते हुए ही उसने बुआ को खूब छेड़ा कि मुझे रोजा इμतारी नहीं दी, अब फेनी खिलाओ। बुआ से इμतारी के पैसे लेकर ही मानी। मुझे अल्लाह से भी शिकायत है कि उसके पहले रोजे का सबाब उसे ऐसा दिया। घर के पास शैतान पल रहा था, अल्लाह ने उसे ऐसी मति दी कि सब लुट गया।

दरिंदे को देख भड़की बच्ची की मां

कमला नगर की मंडवा बस्ती में नौ साल की मासूम बच्ची से दुष्कर्म के बाद हत्या करने वाले आरोपी विष्णु प्रसाद का मासूम की मां, बहन और पिता से आमना-सामना कराया गया। क्राइम ब्रांच पहुंची मां और बहन ने आरोपी को जमकर खरी-खोटी सुनाई और उसे फांसी देने की बात कही। इधर, पिता सदमे में होने के कारण कुछ भी नहीं बोल सका।