सुरखी में सबसे कम और विजयपुर विस क्षेत्र में सबसे ज्यादा वोट बढे

सुरखी में सबसे कम और विजयपुर विस क्षेत्र में सबसे ज्यादा वोट बढे

भोपाल   पूर्व मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान बुधनी विधानसभा क्षेत्र में पिछले चुनाव के मुकाबले मात्र 5 % ही वोट बढ़वा पाए, जबकि पूर्व गृह मंत्री भूपेंद्र सिंह खुरई में मात्र1.49 %और परिवहन मंत्री गोविंद राजपूत सुरखी में केवल 0.83 % अधिक वोट बढ़वा सके। वहीं लहार से मंत्री डॉ. गोविंद सिंह ने 11 प्रतिशत अधिक वोट डलवाए। इसके विपरीत विजयपुर में सबसे अधिक 19 प्रतिशत वोट बढ़ा है। वैसे रामनिवास रावत यहां से विधानसभा चुनाव हार गए थे, लेकिन लोकसभा चुनाव में वे स्वयं चुनाव लड़ रहे हैं इसलिए उन्होंने वोट प्रतिशत बढ़वाने में अहम भूमिका निभाई। उधर ग्वालियर में भी पिछले लोकसभा चुनाव की अपेक्षा इस बार वोट प्रतिशत में कोई खासा अंतर देखने को नहीं मिला। वहां केवल ग्रामीण क्षेत्र में 6 %, शहर में 3 प्रतिशत, ग्वालियर पश्चिम में 3 %और ग्वालियर साउथ में मात्र 3 %वोट ही बढ़ा है। इसके साथ ही मंत्री प्रभुराम चौधरी के क्षेत्र सांची में 10 % , मंत्री प्रद्युम्न सिंह के क्षेत्र ग्वालियर में 5 % , मंत्री लाखन सिंह यादव के क्षेत्र में 10 %, महिला बाल विकास मंत्री इमरती देवी के क्षेत्र डबरा में 10 %, पूर्व मंत्री नरोत्तम मिश्रा के क्षेत्र दतिया में 8.05 %, पूर्व मंत्री यशोधरा राजे सिंधिया के क्षेत्र शिवपुरी में 9% और मंत्री महेंद्र सिंह सिसौदिया के क्षेत्र बमोरी में 7 प्रतिशत वोट % बढ़ा है। करीब 3 लाख 19 हजार ऐसे मतदाता है, जिन्होंने पहली बार वोट डाला है और प्रत्येक विधानसभा क्षेत्र में इनकी संख्या दो से तीन हजार रही है। महिलाओं के वोट भी इस बार नेताओं के लिए खतरे में डाल सकते हैं। खासकर ग्वालियर, भिंड और मुरैना में चौकाने वाले परिणाम आ सकते हैं।