थाने में बेहोश हुई मोनिका, आरती बोली- हमें क्यों पकड़ा गया, हरभजन को पकड़ो

थाने में बेहोश हुई मोनिका, आरती बोली- हमें क्यों पकड़ा गया, हरभजन को पकड़ो

इंदौर  । हनी ट्रैप मामले में कोर्ट ने रविवार को आरोपी आरती दयाल और मोनिका यादव को 27 सितंबर तक की पुलिस रिमांड पर भेज दिया। रिमांड बढ़ाए जाने की बात सुनते ही मोनिका और आरती दयाल फूट-फूटकर रो पड़ीं। उनके वकील ने रिमांड बढ़ाने पर आपत्ति जताई। इस पर थाना प्रभारी ने कहा कि दोनों को पूछताछ के लिए राजगढ़ और भोपाल ले जाना पड़ेगा। इससे पहले पेशी के लिए जा रही आरती ने मीडिया से कहा- हमें क्यों पकड़ा है? हरभजन को पकड़ो। लेकिन केस में कौन शामिल हैं? इस सवाल पर आरती ने चुप्पी साध ली। इधर, सबसे कम उम्र की आरोपी मोनिका यादव थाने में बेहोश हो गई। उसे अस्पताल पहुंचाया गया है। पुलिस ने श्वेता और आरती को लग्जरी कार दिलाने वाले डीलर से भी पूछताछ की है।

आरोपियों के वकील बोले- सीबीआई जांच हो

आरोपियों के वकील ने कोर्ट में कहा कि पुलिस ने बगैर जांच-पड़ताल के आरोपियों की गिरμतारी की है। पुलिस द्वारा दी जा रही जानकारियां पूरी तरह गलत हैं। घटना के मुख्य आरोपियों को पुलिस बचा रही है। इसलिए पूरे मामले की सीबीआई जांच कराई जाए। रूपा अहिरवार की तलाश कर रही पुलिस - इंदौर पुलिस को अब इंदौर होटल के रजिस्टर खंगालने पर जानकारी मिली कि इन होटलों में आरती और मोनिका के अलावा रूपा अहिरवार

महापौर ने मंत्री से कहा- हरभजन को बर्खास्त करें

इंदौर महापौर मालिनी गौड़ ने नगरीय प्रशासन मंत्री जयवर्धन सिंह से फोन पर बात कर इंजीनियर हरभजन सिंह को बर्खास्त करने की अनुशंसा की है। उधर कमिश्नर ने हरभजनसिंह से सभी विभागों का प्रभार ले लिए हैं।