दर्शकों से खफा हैं नवाजुद्दीन, बोलेफूहड़ ह्यूमर देखने के आदी हैं दर्शक

दर्शकों से खफा हैं नवाजुद्दीन, बोलेफूहड़ ह्यूमर देखने के आदी हैं दर्शक

मुंबई। बॉलीवुड में अपने संजीदा अभिनय के लिये मशहूर नवाजुद्दीन सिद्दीकी दर्शकों से खफा हैं और उनका कहना है कि मसाला फिल्म देखने वाले दर्शकों से उन्हें किसी भी तरह की कोई उम्मीद नहीं है। नवाजुद्दीन सिद्दीकी ने कहा कि दर्शक अपनी फिल्म देखने की पसंद को इम्प्रूव भी नहीं करना चाहते हैं। वल्गर और फूहड़ ह्यूमर देखने के आदी दर्शकों को उनकी फिल्में नहीं पसंद आ रही हैं। उन्होंने कहा कि मैंने सोचा था कि मैं अपने टाइप की फिल्में करूंगा, लेकिन जब उन फिल्मों का हश्र देखा तो यह अच्छी तरह समझ गया कि जो बाजार में चलता है, वही करना चाहिए, इतना ज्यादा गहराई में जाने की कोई जरूरत नहीं है। यह बात अलग है कि मुझे में एक आदत जरूर है अपनी तरह की फिल्मों में काम करने की। नवाजुद्दीन ने कहा कि मुझे दर्शकों से बहुत सारी शिकायत है, दर्शक कभी नहीं सुधर सकते, मैं दर्शकों से किसी भी तरह की कोई उम्मीद नहीं रखता हूं, दर्शकों के लिए उनकी तरह की ही फिल्म होनी चाहिए, जिसमें 4 से 5 गाने हो, कितना भी वल्गर ह्यूमर हो, एक इमोशनल सीन हो, जिसमें दर्शकों को रोना आ जाए, यही देना चाहिए दर्शकों को। लोगों को एक ही तरह के रोमांस को देखने की आदत है, उन्हें फोटोग्राफ जैसी फिल्म देखने की आदत नहीं है।