पुलिस टीम पर नक्सली हमला, 5 जवान शहीद, लूट ले गए हथियार

पुलिस टीम पर नक्सली हमला, 5 जवान शहीद, लूट ले गए हथियार

सरायकेला। झारखंड के सरायकेला के तिरूलडीह थानाक्षेत्र में शुक्रवार देर शाम कुकड़ू साप्ताहिक बाजार से लौट रही पुलिस टीम पर नक्सलियों ने हमला कर दिया। इस हमले में पांच पुलिसकर्मी शहीद हो गए हैं। शहीद पुलिसकर्मियों में दो एएसआई और तीन कांस्टेबल शामिल हैं। घटना के बाद नक्सली पुलिस के हथियार भी लेकर फरार हो गए। कुकड़ू साप्ताहिक बाजार में गश्ती कर पुलिस पार्टी लौट रही थी। उसी दौरान घात लगाकर बैठे नक्सलियों ने पुलिस पेट्रोलिंग टीम पर हमला बोल दिया। इसमें पांच पुलिसवालों की गोली लगी और घटनास्थल पर ही उनकी मौत हो गई। पुलिस की जवाबी कार्रवाई में कुछ नक्सलियों को भी गोली लगने की सूचना है। 

थाने में ताला लगा भागे पुलिसकर्मी

दहशत का आलम यह था कि तिरूलडीह थाने के मेन गेट पर ताला लगाकर पुलिसकर्मी भाग गए। कोई घटनास्थल तक जाने की हिम्मत नहीं कर सका। आसपास की सभी दुकानें बंद कर दुकानदार भी भाग निकले।तिरूलडीह के थाना प्रभारी महावीर उरांव सार्वजनिक स्थल पर शराब पीकर डांस करने के आरोप में तीन-चार दिन पहले ही निलंबित किए जा चुके हैं। इधर मुख्यमंत्री रघुवर दास ने हमले की निंदा करते हुए कहा कि पुलिसकर्मियों की शहादत बेकार नहीं जाएगी। दुख की इस घड़ी में सरकार शहीद पुलिसकर्मियों के परिजनों के साथ है। वहीं उन्होंने कहा कि नक्सलियों के खिलाफ सरकार कठोर कार्रवाई जारी रखेगी।  

दो दर्जन नक्सलियों ने दिया हमले को अंजाम

सरायकेला नक्सली हमले में दो एएसआई समेत 3 कांस्टेबल भी शहीद हुए हैं। शहीद होने वालों में एएसआई मनोधन हासदा, एएसआई गोवर्धन पासवान, कांस्टेबल युधिष्ठिर मालुवा, कांस्टेबल डिबरू पूर्ति और कांस्टेबल धनेश्वर महतो शहीद हो गए। हमले के वक्त पुलिस वाहन पर कुल 6 पुलिसकर्मी सवार थे। ड्राइवर सुखलाल कुदादा ने किसी तरह अपनी जान बचाई और साथी पुलिसकर्मियों को हमले की जानकारी दी। जानकारी के मुताबिक, तकरीबन दो दर्जन नक्सलियों ने हमले को अंजाम दिया। 

महाराज प्रमाणिक के दस्ते ने दिया घटना को अंजाम

सूत्रों के अनुसार महाराज प्रमाणिक के दस्ते ने घटना को अंजाम दिया। इस इलाके में महाराज के दस्ते का वर्चस्व है। महाराज के दस्ते ने जिले के खरसावां व कुचाई में हाल के दिनों में विस्फोट समेत अन्य घटनाओं को अंजाम दिया था। इधर, सरायकेला एसपी चंदन सिन्हा ने कहा कि घटना के पीछे भाकपा मओवादियों का हाथ होने की आशंका है। 

मई में नक्सलियों ने किया था हमला

सरायकेला में नक्सलियों ने 28 मई को भी सुरक्षाबलों को निशाना बनाया था। नक्सलियों ने सरायकेला के कुचाई इलाके में सुबह तकरीबन 5 बजे सुरक्षाबलों को निशाना बनाते हुए आईईडी ब्लास्ट किया था। इसमें 26 जवान घायल हो गए थे। पुलिस के उच्चाधिकारियों ने बताया था कि कोबरा, जगुआर और जिला पुलिस की टीम संयुक्त गश्ती अभियान पर थी।