हमें नहीं मिल रहा दुनिया में किसी का भी साथ: कुरैशी

हमें नहीं मिल रहा दुनिया में किसी का भी साथ: कुरैशी

इस्लामाबाद। जम्मू-कश्मीर से आर्टिकल 370 हटाए जाने और सूबे के पुनर्गठन को लेकर पाक ने भले ही इंटरनेशनल फोरम पर उठाने की कोशिशें की हैं, लेकिन उसे दुनिया के देश भाव नहीं दे रहे हैं। मुजμफराबाद में विदेश मंत्री शाह महमूद कुरैशी ने कहा,संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद में भी हमें समर्थन मिलना मुश्किल है। कुरैशी ने कहा, दुनिया के भारत के साथ हित जुड़े हैं। एक अरब की मार्केट है। कई मुस्लिम देशों ने निवेश कर रखा है।

इधर बासित बोले, तो युद्ध किया जाए

वहीं भारत में पाक के राजनयिक रहे अब्दुल बासित ने कहा कि यदि भारत हद पार करे तो युद्ध करना चाहिए। अब्दुल बासित ने कहा, कश्मीर में संघर्ष के चार मोर्चे हैं। पहला, नेशनल कॉन्फ्रेंस द्वारा सुप्रीम कोर्ट में कानूनी लड़ाई। दूसरा, पाकिस्तान को आत्मनिर्णय के साथ कूटनीतिक प्रयास जारी रखने चाहिए। तीसरा, पाकिस्तानी और कश्मीरी प्रवासी इस संबंध में काम करते रहें। चौथा, सबसे महत्वपूर्ण यह है कि कश्मीर में राजनीतिक लड़ाई को पाकिस्तान कमजोर न होने दे। यदि भारत अपनी हदें पार करे तो युद्ध की तरफ बढ़ा जाए।