अब नेहरू स्टेडियम में नहीं रखेंगे ईवीएम

अब नेहरू स्टेडियम में नहीं रखेंगे ईवीएम

इंदौर । अगले लोकसभा, विधानसभा तथा नगरीय निकाय चुनाव में उपयोग होने वाली ईवीएम व वीवीपैट मशीनों की सुरक्षा के लिए मप्र के सभी जिलों में वेयर हाउस (गोदाम) बनाने जा रहे हैं। तीन साल पहले आयोग द्वारा वेयर हाउस बनाने के निर्देश जिला मुख्यालयों को दिए गए थे। ताजा रिपोर्ट के मुताबिक प्रदेश के केवल 11 जिले ऐसे हैं, जहां ईवीएम व वीवीपैट के रखने के लिए वेयर हाउस तैयार कर हैंडओवर कर दिए हैं। 10 जिलों में वेयर हाउस बन चुके हैं लेकिन जिला मुख्यालयों को सुपुर्द नहीं किए, जबकि इंदौर, भोपाल समेत 32 जिलों में अभी वेयर हाउस का निर्माण चल रहा है। इंदौर में कलेक्टोरेट के सामने सरकारी जमीन पर दोमंजिला वेयर हाउस का काम लगभग 75 प्रतिशत हो चुका है। जिला निर्वाचन कार्यालय ने दावा किया है कि वह 31 दिसंबर तक तैयार कर देगा। इंदौर में वेयर हाउस बनने के बाद ईवीएम नेहरू स्टेडियम में नहीं रखी जाएगी। चुनाव समाप्त होने के बाद इलेक्ट्रॉनिक वोटिंग मशीनों (ईवीएम) को कलेक्टोरेट, स्टेडियम, पंचायत भवन या किसी कॉलेज के तलघर में सुरक्षा के लिए रखा जाता है। इनकी बराबर देखरेख नहीं होने के कारण इन स्थानों से ईवीएम चोरी हो जाती है। इस तरह की घटनाएं हो चुकी हैं। इसी को ध्यान में रखते हुए चुनाव आयोग ने ईवीएम व वीवीपैट की सुरक्षा के लिए प्रदेश के सभी जिला मुख्यालयों को इनकी सुरक्षा के लिए वेयर हाउस बनाने के निर्देश दिए थे। इसी निर्देश के तहत प्रदेश के सभी जिलों में वेयर हाउस का निर्माण शुरू हो चुका है।

इंदौर में वेयर हाउस 75 प्रतिशत बनकर तैयार-बताया गया है कि इंदौर में कलेक्टर कार्यालय के सामने (जहां गरम कपड़ों का तिब्बत मार्केट लगता है) लगभग 6.50 करोड़ रुपए की लागत से 5 हजार स्क्येवर फीट जमीन पर जी प्लस वन का वेयर हाउस का निर्माण चल रहा है, जो लगभग 75 प्रतिशत पूरा हो चुका है। इसमें ग्राउंड फ्लोर और फर्स्ट फ्लोर पर 5-5 हजार ईवीएम रखी जा सकेगी। सीयू (कंट्रोल यूनिट), बीयू (बैलेट यूनिट) तथा वीवीपैट रखने की व्यवस्था रहेगी। पीडब्ल्यूडी द्वारा बनाए जा रहे इस वेयर हाउस में मिटिंग हॉल व तीन कमरे भी तैयार किए जा रहे हैं।

31 दिसंबर से पहले कर देंगे हैंडओवर- उप जिला निर्वाचन अधिकारी रजनीश श्रीवास्तव ने बताया कि वेयर हाउस बनने के बाद नेहरू स्टेडियम में ईवीएम नहीं रखी जाएगी। वर्तमान में ईवीएम को सुरक्षा के लिहाज से नेहरू स्टेडियम में रखा गया है। ईवीएम के कारण बैंडमिंटन हॉल सील किया हुआ है। इससे खिलाड़ियों को परेशानी उठानी पड़ रही है। उन्होंने बताया कि वैसे पीडब्ल्यूडी को 31 अक्टूबर तक वेयर हाउस बनाकर देना था, लेकिन काम अभी पूरा नहीं होने के कारण समयावधि बढ़ाकर 31 दिसंबर कर दी है। उधर, पीडब्ल्यूडी के अधिकारी राजेश मकवाना ने बताया कि 31 दिसंबर से पहले वेयर हाउस बनाकर जिला निर्वाचन कार्यालय को हैंडओवर कर दिया जाएगा।

इन मुख्यालयों को सौंपे वेयर हाउस

बैतूल, खंडवा, आगर-मालवा, सीहोर, श्योपुर, राजगढ़, धार, दमोह, शाजापुर, देवास और नीमच।