पाक से अब सिर्फ पीओके के मुद्दे पर होगी बात: राजनाथ

पाक से अब सिर्फ पीओके के मुद्दे पर होगी बात: राजनाथ

कालका। केंद्रीय रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने अनुच्छेद 370 हटाए जाने पर पाकिस्तान की बौखलाहट पर चेतावनी देते हुए कहा है कि भारत के खिलाफ पाकिस्तान आतंकवाद फैलाना बंद कर दे, नहीं तो हम किसी भी तरह के हालात से निपटने के लिए तैयार हैं। हरियाणा के पंचकूला के कालका में एक जनसभा को संबोधित करते हुए उन्होंने दो टूक शब्दों में कहा कि अगर भारत और पाकिस्तान के बीच बातचीत होती है तो वह केवल पाक अधिकृत कश्मीर (पीओके) पर ही होगी। राजनाथ ने कहा कि कुछ दिनों पहले पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान ने कहा था कि भारत बालाकोट एयर स्ट्राइक से बड़े हमले की तैयारी में है। इसका यह मतलब है कि पाकिस्तान मानता है कि भारत ने पाकिस्तान एयर स्ट्राइक किया था। राजनाथ ने कहा, जम्मू-कश्मीर से अनुच्छेद 370 में परिवर्तन राज्य में विकास करने के लिए किया गया है। पाकिस्तान दुनिया का दरवाजा खटखटा रहा है कि भारत ने गलत किया है। पाकिस्तान के साथ बातचीत तभी संभव है, जब पाकिस्तान आतंकवाद का समर्थन बंद करे।

अमेरिका भी कह चुका, जाओ भारत से करो

बात संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद की बैठक से पहले अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप को इमरान खान द्वारा किए गए फोन का जिक्र करते हुए राजनाथ ने कहा, अनुच्छेद 370 के खात्मे के बाद हमारा एक पड़ोसी दुबला हुआ जा रहा है। वह दुनिया के देशों का दरवाजा खटखटा कर कह रहा है कि हमें बचा लीजिए और रुक-रुककर धमकी भी दे रहा है लेकिन अमेरिका के राष्ट्रपति ने भी पाक से कह दिया कि जाओ, भारत के साथ बैठकर बात करो, यहां आने की जरूरत नहीं है।

इधर घबराए इमरान बोले, दुनिया रखे भारत के परमाणु हथियारों पर नजर

इधर इमरान खान ने रविवार को विश्व समुदाय से अपील की, दुनिया को भारत के परमाणु हथियारों की सुरक्षा को गंभीरता से लेना चाहिए जो कि कट्टर हिंदुवादी मोदी सरकार के नियंत्रण में है। यह न सिर्फ एक क्षेत्र बल्कि दुनिया को प्रभावित करेगा। उन्होंने ट्वीट कर कहा कि मोदी सरकार पाकिस्तान के अलावा भारत के अल्पसंख्यकों तथा गांधी और नेहरू के भारत के लिए खतरा है।