प्रज्ञा ने लोकसभा में दो घंटे के भीतर दो बार माफी मांगी 

प्रज्ञा ने लोकसभा में दो घंटे के भीतर दो बार माफी मांगी 

नई दिल्ली। भोपाल से भाजपा सांसद साध्वी प्रज्ञा ठाकुर ने नाथूराम गोडसे को देशभक्त बताने को लेकर शुक्रवार को लोकसभा में दो बार माफी मांगी। संसद में दोपहर 12:30 बजे प्रज्ञा के पहली बार माफी मांगने के बाद विपक्षी पार्टियों ने विरोध किया था। इसके बाद स्पीकर ओम बिड़ला ने सर्वदलीय बैठक बुलाई। फिर लोकसभा में प्रज्ञा ने 2:30 बजे दूसरी बार माफी मांगी। उन्होंने कहा- 27 नवंबर को संसद में मैंने नाथूराम गोडसे को देशभक्त नहीं कहा था। मैंने उसका नाम तक नहीं लिया था। पहली बार माफी मांगते हुए प्रज्ञा ने कहा कि मेरे बयान को तोड़-मरोड़कर पेश किया गया। मैं महात्मा गांधी और देशहित में उनके कार्यों का सम्मान करती हूं। एक सांसद ने मुझे आतंकी कहा, जबकि मेरे खिलाफ आरोप सिद्ध नहीं हुआ है। वे बिना शर्त माफी की मांग कर रहे थे। इससे पहले लोकसभा अध्यक्ष ओम बिड़ला ने प्रज्ञा पर प्रतिबंध लगाने की मांग वाला यूपीए का प्रस्ताव खारिज कर दिया। इधर, चर्चा है कि प्रज्ञा ने उन्हें आतंकवादी कहने वाले बयान के लिए राहुल के खिलाफ विशेषाधिकार हनन का नोटिस भेजा है।