बुद्ध वंदना के बाद निकाली रैलियां, प्रतिमा स्थल पर काटा गया 151 किलो का केक

बुद्ध वंदना के बाद निकाली रैलियां, प्रतिमा स्थल पर काटा गया 151 किलो का केक

भोपाल ।  संविधान निर्माता डॉ. भीमराव आंबेडकर की 128वीं जयंती पर विभिन्न कार्यक्रम आयोजित हुए। सुबह से ही बोर्ड आॅफिस चौराहे पर अनेक संगठनों और राजनीतिक दलों के नेताओं व पदाधिकारियों में प्रतिमा पर माल्यर्पण करने की होड़ रही, यह सिलसिला देर रात तक चला। शहर में जगह-जगह सभाएं और बुद्ध वंदना, झांकियां सजीं, रैलियां निकालीं। बुद्ध भूमि धम्मदूत संघ द्वारा बोर्ड आॅफिस चौराहे पर स्थित प्रतिमा स्थल पर 151 किलो का केक काटा गया। डॉ. आंबेडकर बहुउद्देशीय एकता परिषद् के सदस्यों ने प्रतिमा स्थल पर बुद्ध वंदना की। डॉ. आंबेडकर विद्यार्थी सेना द्वारा प्रतिमा पर श्रद्धा सुमन अर्पित किए गए। दिग्विजय सिंह ने कार्यक्रमों में की शिरकत : पूर्व सीएम दिग्विजय सिंह ने एक दर्जन से स्थानों पर आयोजित डॉ. आंबेडकर जयंती कार्यक्रमो में शिरकत की। सिंह ने डॉ. अंबेडकर को समानता व सामाजिक न्याय संघर्ष के प्रणेतास्त्रोत बताया। सिंह ने कहा कि राजनैतिक जीवन में अंबेडकर के विचार, नीति, संघर्षों को जमीन पर उतारने का प्रयास किया। उन्होंने संबोधित करते हुए डॉ. अंबेडकर के समता मूलक समाज की रचना करने का आव्हान किया। बौद्ध, बोहरा मुस्लिम समाज के अनुयायी, विभिन्न धर्म प्रतिनिधि, मंत्री पीसी शर्मा, फादर आनंद, वीके, वाथम व बड़ी संख्या में बौद्ध समुदाय के लोग उपस्थित थे। दिग्विजय सिंह ने चार इमली में ऋषि नगर में भगवान बुद्ध के दर्शन किए और चल समारोह में शामिल हुए। सुजाता बौद्ध विहार में प्रार्थना सभा में शामिल हुए। राहुल नगर में अंबेडकर जयंती पर समाज के लोगों को संबोधित किया।

बुद्ध विहार में वंदना के साथ किया माल्यार्पण

* करुणा बुद्ध विहार तुलसी नगर में बुद्ध वंदना हुई। महासचिव अशोक पाटिल ने बताया कि कार्यक्रम में मुख्य अतिथि जनसंपर्क पीसी शर्मा थे।

* भारतीय गोंडवाना पार्टी द्वारा टीटी नगर दशहरा मैदान में अंबेडकर जयंती मनाई गई।

* मैनिट परिसर में बाबा साहेब की प्रतिमा पर माल्यर्पण किया गया।

*  भेल कारखाने में यूनियन संगठन और अधिकारियों ने प्रतिमा पर श्रद्धा सुमन अर्पित किए गए।

*  कोलार स्थित वार्ड 82 में भी भीमराव जयंती मनाई गई।

* वार्ड 46 में स्थानीय पार्षद गुड्डू चौहान के नेतृत्व में छह नंबर से रैली निकाली व माल्यर्पण किया।