अधारताल का केक खाकर रांझी का परिवार हुआ बीमार

अधारताल का केक खाकर रांझी का परिवार हुआ बीमार

जबलपुर अधारताल स्थित एक दुकान से केक खरीदकर ले गया रांझी निवासी एक परिवार उसे खाते ही बीमार पड़ गया। महिला और बच्चों को उल्टी-दस्त होने लगे। बुखार हो गया। हालांकि इस मामले में पीड़ित परिवार द्वारा अब तक लिखित शिकायत नहीं की गई है, लेकिन मध्यप्रदेश कांग्रेस कमेटी के महामंत्री सौरभ नाटी शर्मा ने कलेक्टर भरत यादव व सीएचएमओ मनीष मिश्रा को शिकायत करते हुए कार्रवाई की मांग की है। जानकारी के अनुसार 12 नवंबर को रांझी निवासी परिवार ने अधारताल स्थित अग्रवाल स्वीट्स से केक खरीदा था। घर पहुचकर केक खाने के बाद महिला व बच्चो की हालत बिगड़ गई। उन्हें उल्टी-दस्त होने लगे। तत्काल उन्हें चिकित्सक के पास ले जाया गया। बताया गया कि परिवार के सदस्य जब अग्रवाल स्वीट्स पहुंचे, तो दुकान संचालक ने आनन-फानन में आधा खाया केक ही वापस ले लिया और पैसे वापस कर दिए। हालांकि बीमार हुए परिवार के सदस्यों की हालत में अभी कोई सुधार नहीं हुआ है। पूरा परिवार बुखार से भी पीड़ित हो गया है।

मिलावट मुक्त जबलपुर अभियान

सौरभ नाटी शर्मा ने बताया कि प्रदेश सरकार मिलावट खोरों से सख्ती से निपट रही है। कांग्रेस पार्टी द्वारा मिलावट मुक्त जबलपुर अभियान भी चलाया जा रहा है। जहां भी मिलावट एवं गुणवत्ताहीन सामग्री बेचे जाने की शिकायत मिल रही है, वहां संगठन के लोग प्रशासनिक मदद से मिलावटखोरों के खिलाफ कार्रवाई कराने प्रयासरत हैं। रांझी के पीड़ित परिवार द्वारा भी शर्मा से अधारताल स्थित अग्रवाल स्वीट्स की शिकायत की गई थी, जिसके बाद वे हरकत में आए।