समीक्षा के नाम पर संभागायुक्त करेंगे चंदेरी में मौज

समीक्षा के नाम पर संभागायुक्त करेंगे चंदेरी में मौज

ग्वालियर  संभाग में चल रहे विकास कार्यों व रेवेन्यू की बैठक 11 जुलाई को चंदेरी में होने वाली है। संभाग भर के अधिकारियों की यह बैठक यहां नहीं, बल्कि आयोजित होने जा रही है अशोक नगर के चंदेरी में इस एक दिन की बैठक के लिए अच्छा खासा पैसा भी खर्च होने वाला है। अभी तक यह बैठक मोतीमहल स्थित मान सभागार में होती थी, लेकिन इस बार खास तौर से चंदेरी को चुना गया है। एक ओर तो प्रदेश सरकार का खजाना खाली डला हुआ है और सरकार फिजुलखर्ची को रोकने की बात कह रही है दूसरी ओर संभागायुक्त श्री शर्मा ने मनमानी करते हुए यह बैठक मौज मस्ती के लिए की गई है जानबूझकर में चंदेरी में रखा गया है और इस बैठक विकास पर कोई खास चर्चा नहीं होगी बल्कि बैठक के नाम पर शुद्ध फिजुल खर्ची होने वाली है। जानकारों का कहना है कि संभागायुक्त मनमानी पर उतर आए है इसीलिए उन्होंने यह बैठक दूर रखी है। बैठक के लिए चंदेरी में होटल व रिसोर्ट भी बुक हो चुके हैं, संभागभर के कलेक्टर्स व अन्य विभाग के अधिकारियों के होने वाली यह बैठक प्रशासिनक अमले में इस समय चर्चा का विषय बनी हुई है लोग दबी जुबान है इसे संभागायुक्त का गलत फैसला बताते हुए इस पर सवाल भी उठा रहे हैं क्योंकि अगर यह बैठक ग्वालियर संभाग में कहीं होती तो इस पर सरकार का इतना पैसा खर्च नहीं होता जितना अभी होने वाला है।

यह करेंगे शिरकत '

दो दिन बाद होने वाली इस समीक्षा बैठक में पाचं दस नहीं बल्कि पूरे 100 अधिकारियों की मौज होने वाली है। बैठक में संभागभर के कलेक्टर के साथ ही जिला पंचायत के सीईओ, निगर निगम के कमिश्नर सहित अन्य विभाग के अधिकारियों को चंदेरी ले जाया जा रहा है अब देखना यह होगा कि इस बैठक में कितनी विकास पर चर्चा होगी।