आरपीएफ की छुट्टियां रद्द, ज्यादा फोर्स बुलाई

आरपीएफ की छुट्टियां रद्द, ज्यादा फोर्स बुलाई
फाइल फोटो

जबलपुर अयोध्या मामले में सुप्रीम कोर्ट का आदेश आने के पहले रेलवे भी एलर्ट हो गया है। उसने पश्चिम मध्य रेलवे जबलपुर जोन सहित सभी रेल जोनों को एडवाइजरी जारी करते हुए ट्रेनों, स्टेशनों व संवेदनशील पुलों की सुरक्षा कड़ी करने के निर्देश देते हुए आरपीएफ स्टाफ की छुट्टियों पर रोक लगा दी है। वहीं जीआरपी ने भी अपने स्टाफ की छुट्टियों पर अगले आदेश तक रोक लगा दी है। जबलपुर रेलवे स्टेशन पर आरपीएफ-जीआरपी द्वारा डॉग स्क्वॉड की मदद से सघन चैकिंग अभियान शुक्रवार को चलाया गया। अयोध्या विवाद पर सुप्रीम कोर्ट के फैसले से पहले न सिर्फ उत्तर प्रदेश बल्कि देश भर की सुरक्षा एजेंसियां अलर्ट हो गई हैं। गृह मंत्रालय ने राज्यों को एडवाइजरी जारी कर सुरक्षा व्यवस्था कड़ी करने के निर्देश दिए हैं। वहीं भारतीय रेलवे भी इस फैसले से पहले सुरक्षा को पुख्ता करने में जुट गया है। इसके लिए रेलवे पुलिस की ओर से सभी जोन को 7 पेज की एजवाइजरी जारी की गई है जिसमें आरपीएफ के सभी जवानों की छुट्टी रद्द कर दी गई हैं और ट्रेनों की सुरक्षा के लिए अतिरिक्त फोर्स की तैनाती की जा रही है।

रेलवे सजग, यात्री सुरक्षा के विशेष इंतजाम

जबलपुर रेल मंडल ने आजआने वाले अयोध्या प्रकरण के फैसले को लेकर सुरक्षा के सख्त इंतजाम किए हैं। रेलवे स्टेशन पर यात्रियों की सुरक्षा के लिए रेल प्रशासन ने रेल सुरक्षा बल तथा जीआरपी को मुस्तैदी से तैनात रहने तथा यात्रियों की सुरक्षा के लिए हर तरह से सुरक्षा के इंतजाम करने एवं रेलवे संपत्ति की सुरक्षा के लिए विशेष व्यवस्थाएं की गई हैं। इसके तहत मंडल के सभी प्रमुख स्टेशनों पर रेल सुरक्षा बल द्वारा चप्पे-चप्पे पर निगरानी रखकर इस दिशा में हर सुरक्षात्मक कार्य किए जाएंगे। इस संबंध में मंडल रेल प्रबंधक मनोज सिंह ने रेल सुरक्षा बल के अधिकारियों को समुचित निर्देश दिए हैं कि वे रेलवे स्टेशनों पर यात्रियों की सुरक्षा तथा रेल संपत्ति की सुरक्षा के लिए बल एवं स्निफर डॉग के साथ मौजूद रहें। किसी भी अप्रिय स्थिति पर तुरंत समुचित सुरक्षा की कार्रवाई की जाए। इसे लेकर मंडल रेल प्रबंधक श्री सिंह ने आरपीएफ के मंडल कमाण्डेंट से भी चर्चा की है।