आरटीओ : कछुआ गति से तैयार हो रहा फिटनेस ट्रैक

आरटीओ : कछुआ गति से तैयार हो रहा फिटनेस ट्रैक

ग्वालियर  सिरोल पहाड़ी पर बने नए भवन में आरटीओ कार्यालय को शिμट हुए लंबा समय गुजर गया है, उसके बावजूद कंपू स्थित आरटीओ कार्यालय पूरी तरह से खाली नहीं हो पा रहा है, जिसमें अभी भी लायसेंस व फिटनेस शाखाएं जारी हैं, हालांकि एक हजार बिस्तर का अस्पताल बनाने के लिए इस कार्यालय को शिफ्ट होना है, जिसके लिए इन शाखाओं को भी नए कार्यालय में पहुंचना है, लेकिन यहां चल रहे फिटनेस व लायसेंस ट्रैक का कार्य कछुआ गति से चलने के कारण यह शाखाएं शिफ्ट नहीं होते हुए फिलहाल पुराने कार्यालय से ही संचालित हो रही हैं। उल्लेखनीय है कि पूर्व में जिला परिवहन कार्यालय कंपू व पड़ाव स्थित भवन से संचालित होता था, यहां स्थान कम पड़ने तथा एक ही स्थान पर समूचा विभागीय संचालित होने के मकसद से सिरोल पहाड़ी पर नया भव्य भवन बनाया गया है, जिसके बाद पड़ाव स्थित आरटीओ कार्यालय तो यहां से शिफ्ट हो गया, लेकिन लंबे समय बाद भी कंपू कार्यालय अब तक पूरी तरह से शिफ्ट नहीं हो पाया है, और अभी भी लायसेंस व फिटनेस शाखाएं यहां से ही संचालित हो रही हैं। हालांकि योजनानुसार इन दोनों शाखाओं को भी उसी समय यहां से नए भवन में शिफ्ट हो जाना चाहिए था, जब अन्य शाखाएं यहां से गई थीं, लेकिन इनके ट्रैक निर्माण का कार्य बेहद धीमी गति से चलने के कारण यह यहीं अटकी पड़ी हैं। वैसे लायसेंस ट्रैक का कार्य तो लगभग पूर्ण हो चुका है, जिससे कभी भी इसे कंपू से सिरोल शिफ्ट किया जा सकता है, लेकिन फिटनेस ट्रैक फिलहाल कंपलीट नहीं हो सका है, अभी इसका बाउंड्रीवॉल एवं सड़क बनाने का काम बाकी है, जो बेहद धीमी गति से चल रहा है, जिसके चलते लायसेंस शाखा को भी शिμट नहीं किया जा रहा है।

बारबार बनती है जाम की स्थिति

बड़ी संख्या में वाहन फिटनेस करवाने हेतु आरटीओ कार्यालय पहुंचते हैं, चूंकि कंपू स्थित कार्यालय में जगह कम है, जिससे यहां आने वाले वाहनों को बाहर ही खड़े करना पड़ता है, ऐसे में जिस दिन यहां अधिक संख्या में वाहन पहुंच जाते हैं, उस दिन बार-बार जाम की स्थिति निर्मित होती रहती है, जिस कारण इसके इर्द-गिर्द रहने वाले लोगों को काफी परेशानी का सामना करना पड़ता है। यदि फिटनेस व लायसेंस शाखाएं यहां से शिμट हो जाती हैं, तो इन लोगों को खासी राहत मिलेगी।