महिलाओं और बेटियों के लिए सैनेटरी नैपकिन बैंक

महिलाओं और बेटियों के लिए सैनेटरी नैपकिन बैंक

भोपाल ।   आदिवासी अंचल बैतूल में महिलाओं और बेटियों को नि:शुल्क सैनेटरी नेपकीन उपलब्ध कराई जाएगी। इसके लिए एक सामाजिक संगठन ने सैनेटरी नेपकीन बैंक बनाया है। जिले में रक्तदान अभियान को आगे बढ़ाने के लिए रक्तदाताओं की फोटो वाली रक्तदीवार बनाने की भी अनूठी पहल शुरू की गई है। सैनेटरी नेपकीन नि:शुल्क उपलब्ध कराने की पहल सशक्त नारी सशक्त समाज वाट्सएप ग्रुप और बैतूल सांस्कृतिक सेवा समिति ने की है। बैतूल शहर में सशक्त सुरक्षा बैंक की चार महिलाओं के निवास पर प्रारंभ की गई हैं। सामाजिक कार्यकर्ता गौरी बालापुरे बताती हैं कि आदिवासी अंचलों में महिलाओं को सेनेटरी नेपकीन के बारे में कोई ज्ञान नहीं हैं। हमने महिलाओं और किशोरियों को जगरूक करने नि:शुल्क सैनेटरी नेपकीन बैंक शुरू किया है।

रक्तदाताओं की लगेगी तस्वीर

बैतूल में ही सामाजिक संस्था शारदा सहायता समूह ने रक्तदाताओं के सम्मान के लिए अनोखी पहल शुरू की है। इस पहल में संस्था ने लगातार रक्तदान करने वाले रक्तदाताओं के फोटो वाली रक्त दीवार की शुरूआत की है। गंज में रक्त की दीवार लगाई गई है। इस दीवार पर 100 बार से अधिक रक्तदान करने वाले रक्तदाताओं की तस्वीर लगाई गई। संस्था के शैलेन्द्र बिहारिया ने बताया कि रक्तदान को बढ़ावा देने के उद्देश्य से यह पहल की है, जिससे लोग बढ़-चढ़कर रक्तदान में हिस्सा लें और किसी भी जरूरतमंद की जान रक्त की कमी से नहीं जाए।