सतना पुलिस ने दबोचा मप्र और यूपी में आतंक के पर्याय डकैत भोला को

सतना पुलिस ने दबोचा मप्र और यूपी में आतंक के पर्याय डकैत भोला को

जबलपुर।    मध्य प्रदेश एवं यूपी में डकैती डालने वाला आतंक का पर्याय बने डकैत भोला यादव को सतना पुलिस ने पकड़ा है। डकैत को जिंदा या मुर्दा पकड़ने पर 65 हजार का इनाम घोषित था। पुलिस अधीक्षक रियाज इकबाल ने पत्रकारवार्ता में बताया कि अंतरराज्जीय इनामी डकैत भोला यादव को पकड़ लिया गया है। मध्य प्रदेश एवं यूपी में उसकी गिरμतारी पर कुल 65 हजार रुपए का इनाम घोषित था। मझगवां और बरौंधा थाना की टीम ने मुखबिर की सूचना पर डकैत को घेराबंदी करते हुए पड़मनिया के खोबरिन जंगल से बुधवार को पकड़ा था। इसके कब्जे से 12 बोर की देशी बंदूक, कारतूस व नकदी बरामद की गई है। आरोपी डकैत पुलिस से मुठभेड़ करने बंदूक ताल रखी थी लेकिन पुलिस दल ने उसे जिंदा दबोच लिया। आरोपी को अदालत में पेश करने के उपरांत रिमांड पर लिया गया है।

2008 से है सक्रिय

भोला यादव वर्ष 2008 में डकैत संता खैरवार निवासी भगोलन थाना फतेहगंज जिला बांदा उप्र की गैंग के हार्डकोर मेम्बर मिश्रीलाल पंडित को जमीनी विवाद के चलते हत्या कर फरार हो गया था। फरारी के दौरान भोला संता गिरोह से बचने के लिए बाबा गोंड़ निवासी बरहटा थाना मझगवां एवं राजू गोंड़ निवासी गोडरी गोडरामपुर थाना फतेहगंज जिला बांदा उप्र की गैंग मे शामिल हो गया था। इसने वर्ष 2011 में पारिवारिक विवाद के चलते ग्राम मोहरिया थाना फतेहगंज उप्र में अपनी बहन के ससुर लाला यादव की गोली मारकर हत्या कर दिया। वर्ष 2013 में ग्राम बरहटा में प्रेम प्रसंग के चलते सुल्तान सिंह गोंड़ की गोली मारकर हत्या कर दी। वर्ष 2013 में ही भरतपुर में दोहरा हत्या काण्ड किया था। थाना बरौंधा, मझगवां, सिंहपुर, पन्ना जिले के थाना बृजपुर एवं थाना फतेहगंज जिला बांदा में अपहरण, लूट, हत्या, हत्या का प्रयास, डकैती, रंगदारी जैसे कई अपराध किए है। आरोपी डकैत राजू गोंड एवं बाबा गोंड की गिरμतारी के बाद स्वयं का गिरोह बना लिया था। बाद में भोला डकैत गौरी यादव गैंग में शामिल हो गया था।

 को शादी में शामिल होने निकला था डेढ़ लाख का इनामी भोला

एसपी ने बताया, बदमाश भोला यादव मौजूदा समय में डेढ़ लाख के इनामी डकैत गौरी यादव निवासी बेल्हरी थाना बरुइ जिला कर्वी उप्र की गैंग में सक्रिय था। बुधवार को मुखबिर से सूचना मिली थी कि इनामी डकैत भोला यादव अपने रिश्तेदार की शादी समारोह में शामिल होने के लिए जंगल के रास्ते कर्वी उप्र जा सकता है। इसी सूचना पर उसे दबोचा गया।