आधा-अधूरा काम देख भड़की टीम बोले-15 दिनों में काम करें पूरा

आधा-अधूरा काम देख भड़की टीम बोले-15 दिनों में काम करें पूरा

ग्वालियर। सुपर स्पेशिलिटी हॉस्पिटल का कामकाज देखने के लिए केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय के साथ हाइट्स के अधिकारी शनिवार को ग्वालियर आएं और टीम में शामिल प्रधानमंत्री स्वास्थ्य योजना के डायरेक्टर जितेंद्र अरोरा, हाइट्स के डीजीएम एसएम मित्री, पीसीडी हेड अरुण धंती ने डीन डॉ. भरत जैन के साथ 158 करोड़ रुपए की लागत से बन रहे सुपर स्पेशिलिटी हॉस्पिटल के निरीक्षण किया। इस दौरान अस्पताल का आधा-अधूरा काम देखकर टीम के सदस्य भड़क गए और करीब तीन घंटे तक चले इस निरीक्षण के बाद उन्होंने हाइट्स एवं एचएससीसी कंपनी के स्थानीय अधिकारियों को 15 दिनों के भीतर काम पूरा करने के निर्देश दिए। केन्द्र सरकार व राज्य सरकार की ओर से आए यह प्रतिनिधी अपने निरीक्षण की रिपोर्ट आला अधिकारियों को सौपेंगे। टीम के सामने सुपर स्पेशिलिटी हॉस्पिटल अधीक्षक डॉ. गिरिजाशंकर गुप्ता ने कहा कि फरवरी 2019 का लेटर है जिसमें लिखा है एमजीपीएस का काम पूरा हो चुका है,कहां काम पूरा हुआ है। यह लोग इधर से उधर घुमाने का काम कर रहे हैं। आखिर कितना इंतजार और करें। डीन डॉ. भरत जैन ने कहा 3 सितंबर को वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग में कहा था कि एमजीपीएस का काम 10 सितंबर तक हम काम पूरा कर देंगे लेकिन अबतक काम पूरा नहीं हुआ। हाइट्स के डीजीएम एसएम मित्री बोले बिल्डिंग के अंदर दिखा दीजिए यदि ये लोग झूठ बोल रहे हैं तो मैं कार्रवाई करूंगा। एक दूसरे पर टाल रही हैं कंपनियां अधीक्षक डॉ. गुप्ता ने टीम से कहा कि कल एचएससीसी ने कल एक वीडियो भेजा है जिसमें एमजीएस वाले सीलिंग का काम कर रहे हैं। एचएससीसी के अधिकारियों से बात करो तो वह कहते हैं कि हमारा काम तो पूरा पूरा है हाइट्स वालों की तरफ से देर हो रही है और जब हाइट्स वालों से बात करो तो वह कहते हैं कि उनकी तरफ से पूरा है एचएससीसी वालों की तरफ से देर हो रही है। इसके बाद डीएमई के साथ दिल्ली से आई टीम ने सुपर स्पेशिलिटी हॉस्पिटल का निरीक्षण किया।

टीम के को सामने उलझे अधीक्षक व हाइट्स अधिकारी

यहां जब वे सीएसएसडी का काम देखने गए जहां अधीक्षक डॉ. गुप्ता ने कहा कि यहां एसी अभी भी नहीं लगे हैं। इसी बीच हाइट्स के स्थानीय अधिकारी ने कहा कि सब तैयार है लेकिन कोई हेंडओवर लेने तैयार नहीं है। यह सुनकर अधीक्षक डॉ. गिरिजाशंकर गु्प्ता नाराज होकर बोले गलत जानकारी क्यों दे रहे हैं हॉस्पिटल हेंडओवर लेने से किसने मना किया। यहां डीन साहब और डीएमई मैडम भी हैं बताओ किसने मना किया। अभी भी काम पूरा नहीं है। यह सुनकर हाइट्स के दिल्ली से आए अधिकारी ने स्थानीय अधिकारियों से कहा जो काम बाकी रह गया है वह जल्द से जल्द पूरा करें।