बिकवाली के दबाव में सेंसेक्स 416 अंक लुढ़का

बिकवाली के दबाव में सेंसेक्स 416 अंक लुढ़का

मुंबई। कच्चे तेल में तेजी के बीच बैंकिंग तथा वित्तीय कंपनियों के साथ रिलायंस इंडस्ट्रीज जैसी दिग्गज कंपनियों के शेयरों में बिकवाली से घरेलू शेयर बाजार सोमवार को एक प्रतिशत लुढ़ककर डेढ़ सप्ताह के निचले स्तर पर आ गये। बीएसई का 30 शेयरों वाला संवेदी सूचकांक सेंसेक्स सोमवार को 416.46 अंक यानी 0.99 प्रतिशत की गिरावट में 41,528.91 अंक पर बंद हुआ। नेशनल स्टॉक एक्सचेंज का निफ्टी भी 121.60 अंक यानी 0.98 फीसदी टूटकर कारोबार की समाप्ति पर 12,230.75 अंक पर रहा। यह दोनों सूचकांकों का 09 जनवरी के बाद का निचला स्तर है। चौतरफा बिकवाली के बीच मझौली और छोटी कंपनियों पर कम दबाव रहा। बीएसई का मिडकैप 0.57 प्रतिशत की गिरावट के साथ 15,618.86 अंक पर और स्मॉलकैप 0.39 प्रतिशत टूटकर 14,651.17 अंक पर आ गया। सेंसेक्स की कंपनियों में कोटक महिंद्रा बैंक के शेयर पौने पाँच प्रतिशत, रिलायंस इंडस्ट्रीज के तीन प्रतिशत, ओएनजीसी के करीब ढाई प्रतिशत और टीसीएस तथा एनटीपीसी के दो फीसदी से अधिक की गिरावट में रहे। पावरग्रिड में पौने चार फीसदी और भारती एयरटेल में करीब दो फीसदी की तेजी रही।

सेंसेक्स की शुरुआत अच्छी हुई, लेकिन खुलने के कुछ देर बाद ही यह गिरावट में आ गया। गत दिवस की तुलना में 217.63 अंक की बढ़त के साथ 42,263 अंक पर खुला और 42,273.87 अंक तक पहुँचने में कामयाब रहा। लेकिन, इसके बाद बिकवाली शुरू होने से इसका ग्राफ नीचे की ओर लुढ़क गया। कारोबार के दौरान 41,503.37 अंक तक टूटने के बाद अंतत: यह 416.46 अंक की गिरावट के साथ 41,528.91 अंक पर बंद हुआ। बीएसई में कुल 2,712 कंपनियों के शेयरों में कारोबार हुआ। इनमें 1,581 के शेयर लाल निशान में और 950 के हरे निशान में बंद हुये जबकि 181 कंपनियों के शेयर दिन भर के उतार-चढ़ाव के बाद अंतत: अपरिवर्तित रहे। निफ्टी 78.15 अंक की तेजी के साथ 12,430.50 अंक पर खुला और यही दिवस का इसका उच्चतम स्तर भी रहा। इसका ग्राफ भी लगभग सेंसेक्स की तरह ही रहा। बिकवाली के दबाव में 12,216.90 अंक के दिवस के निचले स्तर से होता हुआ यह पिछले कारोबारी दिवस की तुलना में 121.60 अंक नीचे 12,230.75 अंक पर बंद हुआ।