शहरकाजी ने फरमाया-ईद की खुशियां तो मनाएं, लेकिन सफाई का भी ख्याल रखें

शहरकाजी ने फरमाया-ईद की खुशियां तो मनाएं, लेकिन सफाई का भी ख्याल रखें

भोपाल   अल्लाह की राह में सब कुछ कुर्बान करने का त्योहार ईदुल अजहा सोमवार को अकीदत के साथ मनाया। ईदगाह में नमाज के बाद शहर काजी मुश्ताक अली नदवी ने फरमाया कि ईद की खुशियां मनाएं, लेकिन सफाई का भी ख्याल रखें। ताकि किसी को भी तकलीफ नहीं हो। ईदगाह में सुबह सबसे पहले नमाज पढ़ी गई, जिसमें शहर काजी ने समझाते हुए कहा कि कुर्बानी के बाद आर्गंस को फेकें नहीं, बल्कि नगर निगम के कचरा स्थलों में में फेंके। उन्होंने कहा कि इस्लाम में पाकीजगी का महत्व है, यह सभी याद रखें। उन्होंने कहा कि त्योहार मनाते हुए दिखावा करने से बचें। ईदगाह के बाहर दी मुबारकबाद: ईदगाह के बाहर पूर्व सीएम दिग्विजय सिंह, जनसंपर्क मंत्री पीसी शर्मा, पूर्व निगम अध्यक्ष कैलाश मिश्रा, पार्षद योगेंद्र चौहान ने नमाजियों को बधाई दी। जनसंपर्क मंत्री ने शहर काजी को बधाई दी। आईजी योगेश देशमुख ने सुबह पुराने शहर में पैदल भ्रमण कर सुरक्षा का जायजा लिया। मंत्री पीसी शर्मा ने फिल्म अभिनेता शाहवर अली के निवास पर पहुंचकर भेंट की।

भोपाल। सुन्नी सकलैनी जामा मस्जिद अशोका गार्डन में ईद उल अजहा पर्व अकीदत से मनाया। सदर सूफी नूरुद्दीन सकलैनी ने बताया कि नमाज के बाद मुल्क की अमान की दुआ हुई। मस्जिद में ईद की दो नमाजें हुर्इं। पहली सुबह 7.30 बजे मुμती रेहान ने अदा कराई। दूसरी मस्जिद के इमाम मौलाना गुलजार ने 8.30 बजे अदा कराई। सकलैनी ने अपील की कि घरों में कुर्बानी करें। हम सब को मिल जुलकर त्योहार मनाना चाहिए।