लिफ्ट में फंसी बीमार महिला, बिल्डर ने दिखाई असंवेदनशीलता

लिफ्ट में फंसी बीमार महिला, बिल्डर ने दिखाई असंवेदनशीलता

ग्वालियर  सिरोल थाना क्षेत्र में स्थित कॉस्मोवैली टाउनशिप में हो रहे हादसे थमने का नाम नहीं ले रहे हैं, इसी कड़ी में सोमवार सुबह यहां एक और घटित हो गई, जिसमें यहां पांचवी मंजिल पर रहने वाली एक बीमार महिला लिμट में फंस गई, जिसे निकालने के लिए परिजनों को खासी मशक्कत करना पड़ी। हादसे से आहत पीड़ित परिजनों ने इस मामले को लेकर थाने पहुंचकर पुलिस को शिकायती आवेदन भी सौंपा है। कॉस्मोवैली के सी ब्लॉक की पांचवी मंजिल पर स्थित फ्लैट में रहने वाले प्रशांत शर्मा ने बताया कि हमारे ब्लॉक में तीन लिफ्ट हैं, जिनमें से दो लिफ्ट बीते आठ दिनों से खराब पड़ी हुई हैं, तथा जो एक मात्रलिफ्ट चालू थी, उसे भी बिल्डर व सोसायटी के कर्ता-धर्ताओं ने मनमानी करते हुए बीते रोज से ही बंद कर रखा है। चूंकि हमारी भाभी नेहा शर्मा की तबियत खराब है, जिन्हें इलाज हेतु अस्पताल ले जाने के लिए हमने सुबह गार्ड से कहा, तो उनका कहना था कि सोसायटी पदाधिकारियों द्वारा हमें लिफ्ट चालू करने से मना किया गया है, अत: आप उन्हीं से बात करो, जिस पर हमने सोसायटी पदाधिकारियों व बिल्डर को कई बार कॉल किए, लेकिन उन्होंने कॉल रिसीव नहीं किए। किसी तरह दस बजे के लगभग बात होने पर महज दो मिनट के लिए लिफ्ट शुरू की गई, हमारे पापा और भैया-भाभी जैसी ही उसमें घुसे, वैसे ही लिफ्ट अटक गई, जिससे उसमें फंसी बीमार भाभी की तबियत और अधिक बिगड़ने लगी। किसी तरह हमारे अन्य परिजनों ने बाहर से सरिया डालकर लिफ्ट को खोला, तथा भाभी को उपचार हेतु अस्पताल पहुंचाया। बताया गया है कि घटना की सूचना पाकर सिरोल थाना पुलिस भी मौके पर पहुंच गई, जिसने लापरवाही बरतने पर सोसायटी प्रबंधन से जुड़े एक व्यक्ति को उठाया भी है। वहीं प्रशांत व उनके परिजनों का कहना है कि बिल्डर व सोसायटी पदाधिकारियों द्वारा आए दिन इसी तरह अपनी मनमानी करते हुए रहवासियों को परेशान किया जाता है, उनकी संवदेनाएं पूरी तरह से मर चुकी हैं। उन्होंने स्पष्ट रूप से कहा है कि यदि हमारी हमारी बीमार भाभी को कुछ हो जाता, तो उसका जिम्मेदार कौन होता। इस मामले को लेकर पीड़ित परिवार ने थाने पहुंचकर शिकायती आवेदन भी दिया है। बिल्डर ने नहीं किया कॉल रिसीव इस मामले में चर्चा करने हेतु जब कॉस्मोवैली के निर्माता अरविंद अग्रवाल को उनके मोबाइल पर कई बार कॉल किया गया, लेकिन उन्होंने उसे रिसीव नहीं किया, जिस कारण उनसे बात नहीं हो सकी।

पूर्व में भी हो चुके हैं हादसे

यहां बताना गौरतलब होगा कि कॉस्मोवैली में इसके पूर्व भी इस तरह के लिफ्ट हादसे घटित हो चुके हैं, जिसके चलते बीती तीन मई को सी ब्लॉक में ही लिफ्ट टूटने की घटना घटित हुई थी, जिसमें लगभग चार-पांच सीनियर सिटीजन घायल हो गए थे, जबकि एक अबोध बालिका किस्मत से अपने चाचा की गोद में होने के कारण सकुशल बच गई थी। इस मामले से आक्रोशित पीड़ित परिवार द्वारा कॉस्मोवैली के निर्माता अरविंद अग्रवाल सहित अन्य लोगों के खिलाफ पुलिस में एफआईआर भी दर्ज करवाई गई थी। वहीं इसके बाद व पहले भी इस प्रकार की तमाम घटनाएं घटित हो चुकी हैं, उसके बावजूद मेंटीनेंस के नाम पर मोटा पैसा वसूलने वाले बिल्डर व सोसायटी पदाधिकारी यहां की व्यवस्थाएं सुधारने की सुध नहीं ले रहे हैं।