हिंदुस्तान जिंक लिमिटेड की पावर एसेट फ्लीट को आधुनिक बनाएगा सीमेंस

हिंदुस्तान जिंक लिमिटेड की पावर एसेट फ्लीट को आधुनिक बनाएगा सीमेंस

उदयपुर। उर्जा के क्षेत्र में विश्व की अग्रणी कंपनी सीमेंस लिमिटेड वेदांता समूह की प्रमुख कंपनी हिंदुस्तान जिंक लिमिटेड के 80 मेगावॉट के स्टीम टर्बाइन को आधुनिकता बनाकर उसका संचालन शुरू करेगा। हिंदुस्तान जिंक लिमिटेड के पावर एसेट फ्लीट के आधुनिकीकरण में स्टीम टर्बाइन में अत्याधुनिक कलपुर्जे लगाए जाएंगे और डिजिटल टेक्नोलॉजी का सहारा लिया जाएगा। हिंदुस्तान जिंक लिमिटेड में पावर प्लांट के प्रमुख वी.जयरामन ने बताया कि अपने पावर प्लांट्स के आधुनिकीकरण के लिए प्रमुख वैश्विक प्रौद्योगिकी प्रदाता कंपनी सीमेंस के साथ साझेदारी कर बेहद प्रसन्न हैं। उन्होंने बताया कि कंपनी का लक्ष्य स्टीम टर्बाइन से ऊर्जा उत्पादन की क्षमता बढ़ाना और ज्यादा से ज्यादा बिजली का उत्पादन करना है। मॉड्यूलर परियोजना को अमल में लाने से बिजली की कम कटौती सुनिश्चित होगी। सीमेंस में गैस और पावर विभाग के हेड गर्ड ड्यूसर ने कहा कि हम पावर एसेट μलीट का आधुनिकीकरण करने के लिए हिंदुस्तान जिंक लिमिटेड से साझेदारी कर काफी उत्साहित हैं। इस समय अपग्रेड किए गए 80 मेगावॉट के टर्बाइन इंडस्ट्री में सबसे अच्छे हैं। इससे ज्यादा लचीलापन सुनिश्चित होता है एवं कार्बन उत्सर्जन में कमी आती है और उच्च विश्वसनीयता कायम रहती है। उन्होंने कहा कि ऊर्जा के उपलब्ध स्त्रोतों का प्रभावी प्रयोग बेहद जरूरी हो गया है। कई इंडस्ट्रियल कंपनियां अपनी क्षमता सुधारने के समाधान और अवसरों की संभावना को तलाश रही है। सीमेंस के स्टीम टर्बाइन इंडस्ट्री में किए जाने वाले कई कार्यों में महत्वपूर्ण भूमिका निभाते हैं। उन्होंने कहा कि सीमेंस के स्टीम टर्बाइन कई इंडस्ट्रियल प्लांट्स की क्षमता में सुधार के लक्ष्य को हासिल करने में कारगर साबित हो सकते हैं।