स्मैकिया पति करता था मारपीट देवर ने कर डाली ऐसी मांग...

स्मैकिया पति करता था मारपीट देवर ने कर डाली ऐसी मांग...

ग्वालियर। नशेड़ी पति स्मैक के नशे में पड़ा रहते हुए आए दिन गाली-गलौज व मारपीट करने लगा, जिसका फायदा उठाकर देवर घर में रखने के एवज में शारीरिक संबंध बनाने की मांग कर बैठा, यही नहीं उसने एक दिन मौका पाकर अपनी ही सगी भाभी के साथ छेड़छाड़ कर दी। किसी तरह से उसके चुगुल से बची पीड़िता ने जब इसकी शिकायत अपने पति से की, तो वह भाई का पक्ष लेते हुए उल्टा पत्नी पर ही अनर्गल आरोप लगाने लगा। जब प्रताड़नाएं अधिक बढ़ गर्इं, तो पीड़िता ने थाने पहुंचकर पूरी दास्तान सुना दी, जिस पर पुलिस द्वारा पहले तो काउंसलर की मदद से उसे परामर्श दिया गया, जिसके बाद पीड़िता ने हिम्मत करके आरोपी पति व देवर के खिलाफ प्रकरण दर्ज करवा दिया है। मूलत: गोहद की रहने वाली 32 वर्षीय सवर्ण महिला का विवाह महाराजपुरा थाना इलाका स्थित दीनदयाल निवासी युवक के साथ लगभग दस वर्ष पूर्व हुआ था। शादी के कुछ समय तक तो सब कुछ ठीक चला, लेकिन उसके बाद पति को स्मैक की लत गई, और वह काम-धंधा छोड़कर रात-दिन स्मैक पीने लगा, यहां तक कि अपनी नशे की तलब को पूरा करने के लिए वह घर का सामान तक बेचने लगा। जब पत्नी ने उसका विरोध शुरू किया, तो वह उसके साथ गाली-गलौज व मारपीट करने लगा। घर का माहौल तनावपूर्ण देखकर साथ ही रहने वाला देवर अपनी ही भाभी के सामने अश्लील हरकतें करने लगा, जब महिला ने उस पर ध्यान नहीं दिया, तो एक दिन देवर ने उसके साथ छेड़छाड़ कर दी, जब पीड़िता ने इसका विरोध किया, तो आरोपी देवर ने स्पष्ट कहा कि अगर घर में रहना है, तो तुम्हें मेरे साथ भी संबंध बनाना पड़ेंगे। किसी तरह देवर के चंगुल से छूटी पीड़िता ने जब इसकी शिकायत अपने नशेड़ी पति से की, तो वह भाई का पक्ष लेते हुए अपनी पत्नी पर ही अनर्गल आरोपी लगाने लगा। इसके बाद पति उसे और ज्यादा परेशान करने लगा, साथ ही देवर की हरकतें भी जब ज्यादा बढ़ने लगीं, तो पीड़िता ने एसपी नवनीत भसीन के समक्ष पहुंचकर आपबीती बयां की, जिन्होंने मामले की गंभीरता को देखते हुए महिला थाना प्रभारी गीता भदौरिया को उचित कार्रवाई करने के निर्देश दिए। महिला थाने पहुंची पीड़िता की काउंसलर महेंद्र शुक्ला ने काउंसलिंग की, जिसके बाद महिला थाना पुलिस ने पीड़िता की शिकायत पर आरोपी पति व देवर के खिलाफ प्रकरण दर्ज कर लिया है। नशे की लत के लिए मोबाइल भी बेचा नशेड़ी पति द्वारा स्मैक के नशे की लत को पूरा करने के लिए घर-गृहस्थी का तमाम सामान बेच दिया गया, यदि पीड़िता उसका विरोध करती, तो वह उसकी बेरहमी से मारपीट करता। यहां तक कि उसने अपना मोबाइल तक बेच डाला, जिससे पुलिस का आरोपी से संवाद स्थापित नहीं हो सका। पीड़िता का पति स्मैक के नशे का आदी है, जो उसके साथ मारपीट करता है, जबकि देवर द्वारा उसके साथ छेड़छाड़ की गई हैं, हमने पति व देवर के खिलाफ प्रकरण दर्ज कर मामला महाराजपुरा थाने पहुंचा दिया है। गीता भदौरिया, महिला थाना प्रभारी हमारे पास फिलहाल ऐसा कोई प्रकरण नहीं आया है, यदि आता है, तो मामले में तुरंत उचित कार्रवाई की जाएगी। बेग मिर्जा आसिफ टीआई, थाना महाराजपुरा पीड़िता बेहद सहमी हुई आई थी, हमने उसकी परेशानी को ध्यान से सुनकर काउंसलिंग की, जिसके बाद उसने आरोपी पति व देवर के खिलाफ प्रकरण दर्ज करवाया है।