वैष्णो देवी में हुई पहली बर्फबारी, कोठी मनाली भी बर्फीली चादर में ढंकी,

वैष्णो देवी में हुई  पहली बर्फबारी, कोठी मनाली भी बर्फीली चादर में ढंकी,

पहाड़ों में बर्फबारी का सिलसिला जारी है. जम्मू कश्मीर की बात करें तो वैष्णो देवी में रविवार इस मौसम की पहली बर्फबारी हुई. हालांकि, बर्फबारी के बावजूद श्रद्धालुओं ने मंदिर में दर्शन के लिये यात्रा जारी रखी. श्राइन बोर्ड के अधिकारियों ने बताया कि त्रिकुट पर्वत पर भवन, भैरों घाटी, सांझीछत और हिमकोटी तथा घुमावदार मार्गों में कुछ इंच बर्फ जम गई. उन्होंने बताया कि बर्फबारी के बावजूद 15,000 से अधिक श्रद्धालु गुफा जाने के मार्ग में बढ़ रहे हैं. उन्होंने बताया कि हेलीकॉप्टर और यात्री केबल कार सेवा को थोड़े समय तक बंद रखने के बाद बहाल कर दिया गया है. पंजाब के पर्यटन मंत्री नवजोत सिंह सिद्धू ने भी वैष्णो देवी मंदिर में दर्शन किया. जम्मू में चर्चित पर्यटन स्थल पटनीटॉप और नाथाटॉप में भी दिन के दौरान बर्फबारी हुई.

 

आपको बता दें कि हिमाचल प्रदेश की राजधानी शिमला में रविवार को बर्फबारी नहीं हुई, तो वहीं, मनाली में लगातार दूसरे दिन भी बर्फ गिरी. मौसम विभाग के अधिकारियों ने बताया कि बुधवार तक राज्य में और बारिश और बर्फबारी की संभावना है. मौसम विभाग के एक अधिकारी ने बताया, "मनाली और उसके आसपास की पहाड़ियों में मध्यम बर्फबारी हुई है. नौ जनवरी तक और अधिक बर्फबारी की संभावना है".  मनाली के पास कोठी में अच्छी खासी बर्फबारी हुई है. वहीं, शिमला में बर्फली हवाओं के कारण तापमान गिरकर 1.7 डिग्री सेल्सियस पर आ गया है. शिमला, कुफरी और नारंकडा में हुई बर्फबारी ने इन पर्यटक गंतव्यों को और अधिक आकर्षक बना दिया है