पत्नी को वापस दिलाने की जिद पर कंट्रोल रूम में युवक धरने पर बैठा

पत्नी को वापस दिलाने की जिद पर कंट्रोल रूम में युवक धरने पर बैठा

ग्वालियर। अपनी पत्नी को वापस दिलाए जाने की मांग को लेकर मंगलवार को जनसुनवाई में पहुंचा एक युवक कंट्रोल रूम में धरने पर बैठ गया। बताया गया है कि विगत दिनों यही युवक रॉक्सी टॉकीज के समीप स्थित एक खंभे पर चढ़कर फांसी लगाने का प्रयास भी कर चुका है। पुलिस अफसरों ने उसे कार्रवाई करने का भरोसा दिलाकर धरने से उठवाया। जानकारी के मुताबिक बहोड़ापुर निवासी संजय रजक मंगलवार को एसपी की जनसुनवाई में पहुंचा। उसका कहना था कि उसकी पत्नी पिंकी सेन बीती एक मई को अचानक कहीं चली गई, जिसकी गुमशुदगी दर्ज करवाने वह ग्वालियर थाने पहुंचा, तो थाना प्रभारी ने उसकी पत्नी उसे सौंपने के बजाय पनिहार निवासी अनिल परिहार व उसके पिता तेजसिंह परिहार के साथ भेज दी। तब से ही अनिल उसे अपनी पत्नी बनाकर रखे हुए है। फरियादी के मुताबिक आरोपी ने उसके सात वर्षीय पुत्र शिवा को भी अपने पास रखा हुआ है तथा वह उसे अपने पुत्र से मिलने भी नहीं देता है। संजय का कहना है कि आरोपियों द्वारा उसे पुत्र से मिलवाने के नाम पर 60 हजार रुपयों की मांग की गई थी, जिसमें से 30 हजार रुपए उसने दे भी दिए हैं, लेकिन उसके बावजूद उसे केवल पत्नी से ही मिलवाया गया। फरियादी के मुताबिक आरोपी की पत्नी अब उसके पास आकर साथ रहने की बात कह रही है, लेकिन वह उसके साथ नहीं रहना चाहता। उसे अपनी पत्नी के साथ रहना है, अत: उसकी पत्नी पिंकी को आरोपियों के चंगुल से छुड़ाकर उसके सुपुर्द किया जाए। जब जनसुनवाई के दौरान संजय की शिकायत पर किसी ने गौर नहीं किया, तो वह कंट्रोल रूम में ही धरने पर बैठ गया। जब यह बात पुलिस कप्तान के संज्ञान में पहुंची, तो उन्होंने उसे बुलवाकर तसल्ली से उसकी बात सुनकर नियमानुसार कार्रवाई करवाने का आश्वासन दिया, जिस पर युवक वहां से वापस लौट गया।