अस्पताल की सुरक्षा भगवान भरोसे, तीसरी आंख खराब

अस्पताल की सुरक्षा भगवान भरोसे, तीसरी आंख खराब

ग्वालियर। अंचल के सबसे बड़े अस्पताल जेएएच हॉस्पिटल्स में सुरक्षा की दृष्टि से लगे कैमरे महीनों से खराब पड़े हैं। जिम्मेदार पीडब्ल्यूडी विभाग के अधिकारियों की मनमानी की वजह से कैमरे सही नहीं हो पा रहे हैं। कैमरे काफी समय से बंद हैं और मरीजों की सुरक्षा भगवान के भरोसे ही हैं। प्रबंधन में सुरक्षा के लिए जेएएच, केआरएच, ओपीडी, कॉर्डियोलॉजी एवं न्यूरोलॉजी में 60 कैमरे लगाए थे, लेकिन इनमें से 25 कैमरे पिछले काफी समय से बंद पड़े हुए हैं, इनको लेकर प्रबंधन कई बार पीडब्ल्यूडी के अधिकारियों से कह चुका है। पूर्व संभागायुक्त बीएम शर्मा ने भी इस मामले को लेकर नाराजगी जाहिर की थी। उनके समय में विभाग के अधिकारियों ने दिखावे के लिए सर्वे करने का काम भी किया, लेकिन कैमरे ठीक नहीं हो पाए। इस मामले में जेएएच के प्रबंधन की मानें तो यह कैमरे पीडब्ल्यूडी के तहत टेंडर के माध्यम से जैन सर्विसेज नाम की कंपनी द्वारा मई 2017 में लगाए गए थे। इन कैमरों की गांरटी एक साल की थी, जो समाप्त हो चुकी है। इसी के चलते जिस कंपनी ने इन कैमरों की लगाया था, वह इनका मेंटीनेंस नहीं कर रही है।