उज्जैन ने मांगा इंदौर से पीने का पानी

उज्जैन ने मांगा इंदौर से पीने का पानी

इंदौर। शहर में दिनोंदिन जल संकट के आसार बन रहे हैं। टैंकरों से सप्लाय पर निर्भरता बन गई है। आने वाले दिनों में जलसंकट त्रासदायक बन जाएगा। जीवनदायी यशवंत सागर ही उम्मीद की किरण नजर आता है। जून तक तालाब से पानी देने का दावा निगम कर रहा है। गर्मी की उष्णता ने जलक्षमता को प्रभावित करना शुरू कर दिया है। संभव नहीं लगता कि जून तक तालाब पानी उपलब्ध करा सके। इसी बीच रविवार को उज्जैन निगमायुक्त ने इंदौर निगमायुक्त के साथ बैठक की। इसमें उज्जैन प्रशासन ने तालाब का पानी डेम में छोड़ने के लिए मांगा है। निगम 15 मई के बाद पानी देने को लेकर अपनी स्थिति स्पष्ट करेगा।

टैंकरों पर निर्भरता बढ़ाई

उज्जैन की प्यास नर्मदा के साथ गंभीर डेम से बुझती है। जलूद से 40 एमएलडी पानी उज्जैन भी सप्लाय किया जाता है। वर्तमान में उज्जैन की कई कॉलोनियों में पानी के लिए त्राहि-त्राहि मचने लगी है। प्रशासन की अनदेखी से गंभीर डेम के पानी की चोरी भी होने लगी है। इसी बीच पानी संकट ने प्रशासन की सुस्ती भगा दी। टैंकरों पर निर्भरता बढ़ाने के साथ इंदौर से भी अतिरिक्त पानी की दरकार बनने लगी है।